ताज़ा खबर
 

दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉमन रूम में ही सोने लगे थे लड़के, लड़कियों को हुई दिक्कत तो प्रशासन ने जारी किया ये फरमान

प्रोफेसर अग्निमित्रा बताती हैं कि कॉमन रूम में कुछ ही दिन पहले एयर कंडीशनर लगवाया गया है, इसके बाद कुछ छात्र नाइट ड्रेस में ही बेतरतीब ढंग से कॉमन रूम में ही सोने लगे।
दिल्ली विश्वविद्यालय का कला संकाय (आर्ट्स फैकल्टी)

दिल्ली विश्वविद्यालय ने स्टूडेंट्स को कहा है कि वे कॉमन रूम में ढंग के कपड़े ही पहनकर आएं, अन्यथा उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। डीयू के डिपार्टमेंट ऑफ सोशल वर्क ने नोटिस जारी कर स्टूडेंट्स को कहा है कि है कि वे कॉमन रूम में डिसेंट कपड़े पहनकर ही आएं। डीयू के डिपार्टमेंट ऑफ सोशल वर्क का कॉमन रूम लड़के और लड़कियां दोनों ही इस्तेमाल करते हैं। डीयू प्रशासन के मुताबिक डिपार्टमेंट ऑफ सोशल वर्क के हॉस्टल में लड़के लड़कियां दोनों ही रहते हैं और दोनों इस कॉमन रूम का इस्तेमाल करते हैं। डीयू की ओर से इस फरमान के आने के बाद कई छात्र-छात्राओं ने मोरल पुलिसिंग का हवाला देकर प्रशासन के रवैये की निंदा की। लेकिन डिपार्टमेंट ऑफ सोशल वर्क की हेड और प्रोवोस्ट प्रोफेसर नीरा अग्निमित्रा इस नोटिस को जारी करने के पीछे कुछ और ही तर्क देती हैं। प्रोफेसर अग्निमित्रा का कहना है कि ये नोटिस लड़कों के लिए है ना कि लड़कियों के लिए। हालांकि नोटिस में इस तरफ का कोई भी स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है।

प्रोफेसर अग्निमित्रा बताती हैं कि कॉमन रूम में कुछ ही दिन पहले एयर कंडीशनर लगवाया गया है, इसके बाद कुछ छात्र नाइट ड्रेस में ही बेतरतीब ढंग से कॉमन रूम में ही सोने लगे। लड़कों के इस रवैये से लड़कियों को परेशानी हुई तो गर्ल्स स्टूडेंट्स ने वार्डन से इस बात की शिकायत की। इसके बाद ही वार्डन की ओर से ये नोटिस लगवाया गया कि हॉस्टल के मेल स्टूडेंट्स को ढंग के कपड़े पहनकर ही कॉमन रूम में आना पड़ेगा। इसके अलावा यूनिवर्सिटी प्रशासन ने कॉमन रूम में खाने, सोने समेत किसी प्रकार की अशोभनीय हरकत पर रोक लगा दी है। इन निर्देशों के उल्लंघन पर विद्यार्थियों ऊपर अनुशासनात्मक कार्रवाई के भी आदेश दिये गये हैं। प्रोफेसर अग्निमित्रा के मुताबिक इस निर्देश छात्राओं की भावनाओं का ख्याल कर लगाया गया है और वह छात्र क्या पहनते हैं इसमें दखल नहीं देती हैं।

बता दें कि कुछ दिन पहले आईआईटी दिल्ली में भी हाउस डे के दौरान छात्राओं को पूरा शरीर ढकने वाले कपड़े ही पहनकर आने की हिदायत दी गई थी। लेकिन छात्राओं के विरोध के बाद आईआईटी दिल्ली ने इस आदेश को वापस ले लिया था।

DU बचाओ कैंपेन से अलग हुई गुरमेहर कौर; कहा- "मुझे अकेला छोड़ दो"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग