March 25, 2017

ताज़ा खबर

 

मनोहर पर्रिकर ने भारतीय सेना को बताया हनुमान जैसा, बोले- सर्जरी हो चुकी मगर अब तक बेहोश है पाकिस्‍तान

उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप हमें पीड़ा देना चाहते हैं तो इस देश की सेना, इस देश के लोग आपको भी पीड़ा देने में समर्थ हैं।’’

Author October 2, 2016 07:28 am
केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर (पीटीआई फाइल फोटो)

नियंत्रण रेखा के पार लक्ष्यभेदी हमले (सर्जिकल स्ट्राइक) के दो दिन बाद रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने आज पाकिस्तान की हालत की तुलना सर्जरी के बाद ‘‘बेहोशी में पड़े रोगी’’ से की और कहा कि ‘‘यदि आप हमें दर्द देंगे तो इस देश के सैन्यबल आपको वही दर्द देने में सक्षम हैं।’ इस कार्रवाई के बाद अपने पहले बयान में पर्रिकर ने कहा कि भारत शांति को पसंद करता है और बिना उकसावे के हमले में विश्वास नहीं करता लेकिन वह आतंकवाद को स्वीकार नहीं कर सकता। उन्होंने कहा कि नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकी लांच पैडों पर इस लक्षित हमले का उद्देश्य पाकिस्तान को संदेश देना था कि भारत के सैनिक पलटवार करना जानते हैं। पर्रिकर ने पौड़ी जिले के पीठसेन में सभा में कहा, ‘‘लक्षित हमले के बाद पाकिस्तान की हालत सर्जरी के बाद बेहोश रोगी की तरह है जिसे नहीं मालूम कि उसकी सर्जरी हो चुकी है। लक्षित हमले के दो दिन बाद भी पाकिस्तान को नहीं पता कि क्या हुआ है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अगर आप हमें पीड़ा देना चाहते हैं तो इस देश की सेना, इस देश के लोग आपको भी पीड़ा देने में समर्थ हैं।’’

उन्होंने उरी हमला करने वाले दुश्मनों के गाल पर तमाचा जड़ने के लिए विशेष पैरा बल की सराहना करते हुए कहा, ‘‘हम दूसरों पर राज नहीं करते, पर अपमान नहीं सहेंगे और इसके बाद तो कतई नहीं। ’’ लक्षित हमले को आतंकवाद निरोधक अभियान करार देते हुए पर्रिकर ने सेना की तुलना हनुमान से की और उन्होंने रामायण का जिक्र किया जिसमें हनुमान को जामवंत द्वारा उनकी असाधारण शक्तियों के बारे में याद दिलाने पर वह समुद्र लांघ गए। पर्रिकर ने कहा, ‘‘भारतीय सेना हनुमान की तरह है जो लक्ष्यभेदी हमले से पहले अपनी ताकत के बारे में नहीं जानती थी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस हमले से हमारे सैनिकों को उनकी क्षमता का अंदाजा लगा। हमले के बाद पाकिस्तान किंकर्तव्यविमूढ़ है और समझ नहीं पा रहा है कि क्या प्रतिक्रिया दे।’’

READ ALSO: BSF एग्‍जाम टॉपर नबील वानी ने छेड़खानी कर रहे शख्‍स को मारा चांटा, लड़कियों से कहा- चप्‍पल की पावर दिखाओ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 2, 2016 7:28 am

  1. B
    Bob Bhatt
    Oct 2, 2016 at 2:53 am
    वक्त की आवाज़ भारत और हिन्दू धर्म की रक्षा के लिए घर में पैदा नवजात मेल (पुत्र ) को सिख बनाओ.
    Reply
    1. B
      bitterhoney
      Oct 2, 2016 at 2:25 pm
      अगर हनुमान जी जैसे हमारे सैनिक हैं तो फिर हमको किसी बात की चिंता नहीं करनी चाहिए और हमें व्यर्थ में हथियारों पर पैसा खर्च नहीं करना चाहिए. हनुमान जी की शक्ति के आगे कोई भी टिक नहीं सकता. मोदी जी हनुमान जी का ही तो रूप हैं. मोदी जी का स्वरुप भी तो हनुमान जी ही जैसा है. मोदी जी का दर्शन करना ऐसा ही है जैसे हनमन जी का साक्छात दर्शन कर लिया. हनुमान जी की जय हो.
      Reply
      1. R
        Ramesh Arora
        Oct 2, 2016 at 6:55 am
        Salute to Indian Army for restoring our faith in our capabilities. My appreciation goes to the defence minister for being so conscious to our national security. We are secure because our borders are secure in the hands of our Army
        Reply

        सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

        सबरंग