ताज़ा खबर
 

मेहदी की गिरफ्तारी पर पुलिस को मिली धमकी

अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) का समर्थन व प्रचार करने वाले सबसे प्रभावशाली ट्विटर अकाउंट ‘ऐट शमीविटेनस’ के कथित संचालक मेहदी मसरूर विश्वास की गिरफ्तारी के सिलसिले में जांच अधिकारी अब आइएस की ‘वास्तविक व आभासी दुनिया’ से उसके ‘हरसंभव रिश्तों’ का पता लगाने की कोशिश में हैं। यह जानकारी रविवार को एक पुलिस […]
Author December 15, 2014 10:11 am
मेहदी के मुताबिक मुंबई के जो तीन युवक अब भी इराक-सीरिया में हैं, उनमें से एक युवा आईएसआईएस समर्थक ट्विटर चला रहा है।

अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आइएस) का समर्थन व प्रचार करने वाले सबसे प्रभावशाली ट्विटर अकाउंट ‘ऐट शमीविटेनस’ के कथित संचालक मेहदी मसरूर विश्वास की गिरफ्तारी के सिलसिले में जांच अधिकारी अब आइएस की ‘वास्तविक व आभासी दुनिया’ से उसके ‘हरसंभव रिश्तों’ का पता लगाने की कोशिश में हैं। यह जानकारी रविवार को एक पुलिस अधिकारी ने दी। इस बीच, मेहदी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। जबकि उसे गिरफ्तार करने बंगलूर के पुलिस उपायुक्त (अपराध) अभिषेक गोयल को ट्विटर पर इसका अंजाम भुगतने की धमकी दी गई।

विशेष जांच टीम की अध्यक्षता कर रहे संयुक्त पुलिस आयुक्त हेमंत निंबालकर ने बताया कि शुरुआती जांच में पता चला है कि मेहदी ‘आइएस की विचारधारा का प्रचारक’ था और वह हमारे उन मित्र देशों के खिलाफ विचार तैयार करने में अहम भूमिका निभा रहा था जिनके खिलाफ आइएस जंग छेड़े हुए है। उन्होंने बताया कि आइएस से उसके आभासी और वास्तविक संबंधों की जांच की जा रही है। जांच अधिकारी इससे जुड़े उसके हरसंभव रिश्तों का पता लगाने की कोशिश में हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जांच टीम भारत में ही उसके किसी संपर्क की मौजूदगी या किसी स्लीपर सेल के होने या न होने की भी जांच कर रही है। उन्होंने कहा कि फॉलोअर नेटवर्क का भी अध्ययन किया जा रहा है।

इस बीच, मेहदी को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया। पुलिस उपायुक्त (अपराध) अभिषेक गोयल ने बताया कि बंगलूर सीसीबी पुलिस को मेहदी की पांच दिन की हिरासत मिली है। उसे शनिवार रात मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया था। मेहदी की गिरफ्तारी के बाद शनिवार को ही गोयल को उस वक्त धमकी भी दी गई जब उन्होंने 24 साल के इंजीनियर की गिरफ्तारी के बारे में ट्वीट किया। बंगलुरु में आइटीसी फूड्स नाम की कंपनी में मैन्यूफैक्चरिंग एग्जीक्यूटिव के तौर पर काम करने वाले मेहदी को उसके एक कमरे वाले किराए के फ्लैट से गिरफ्तार किया गया था।

‘ऐट अबूअनफाल6’ नाम के ट्विटर अकाउंट से लिखा गया, ‘ऐट गोयल….अभी, हम अपने भाइयों को तुम्हारे हाथ में नहीं छोड़ेंगे। बदला लिया जाएगा। हमारी प्रतिक्रिया का इंतजार करो।’ गोयल ने हालांकि कहा कि इस धमकी को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा- व्यक्तिगत तौर पर मैं इस धमकी को ज्यादा गंभीरता से नहीं ले रहा। बंगलूर में आइएस के ट्विटर अकाउंट पर विचार व्यक्त करने वाले ‘ऐट शमीविटेनस’ की मौजूदगी के बारे में खुफिया सूचना मिलने के बाद शहर के पुलिस प्रमुख ने एक विशेष टीम का गठन किया था। इस टीम ने मेहदी पर पैनी नजर रखी और उसे गिरफ्तार कर लिया।

ब्रिटेन के ‘चैनल-4’ ने एक खबर दिखाई थी कि विदेशी जिहादियों द्वारा बड़े पैमाने पर फॉलो किए जा रहे ट्विटर अकाउंट का संबंध भारत की आइटी राजधानी से है। इस खबर के बाद से ही बाद बंगलुरु पुलिस ने मेहदी की तलाश शुरू कर दी थी। पुलिस ने शनिवार को कहा था कि मेहदी ने ‘ऐट शमीविटेनस’ नाम का ट्विटर अकाउंट चलाने की बात कबूल कर ली है।

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    RPCHOPRA
    Dec 15, 2014 at 1:19 pm
    अखिलेश यादव जी आपका धर्मपरााािवर्तन तो पहले हे हो चूका है. लोग तो आपको हिन्दू नही मानते है. आप को तो लोग 'मुल्ला' मानते हैं. इस से अछा है के आप कुछ नो BOLE
    (0)(0)
    Reply
    1. R
      RPCHOPRA
      Dec 15, 2014 at 1:19 pm
      अखिलेश यादव जी आपका धर्मपरााािवर्तन तो पहले हे हो चूका है. लोग तो आपको हिन्दू नही मानते है. आप को तो लोग 'मुल्ला' मानते हैं. इस से अछा है के आप कुछ नो BOLE
      (0)(0)
      Reply
      1. Sakshi Chopra
        Dec 15, 2014 at 12:15 pm
        Read News in Gujarati at :� :www.vishwagujarat/
        (0)(0)
        Reply
        सबरंग