ताज़ा खबर
 

बीजेपी की तरह सोशल मीडिया का यूज करने लगी कांग्रेस, अब लोगों से पूछे हैं यह सवाल

कांग्रेस ने यह सवाल जब पूछे हैं तब आरबीआई ने कहा कि 99 फीसदी पुराने नोट वापस आ चुके हैं।
राहुल गांधी ने भी सवाल पूछा कि क्या नोटबंदी की वजह से हुए नुकसान की जिम्मेदारी पीएम मोदी लेंगे।

ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस अपनी प्रतिद्वंदी राजनीतिक पार्टी की राह पर चलने की कोशिश कर रही है। कांग्रेस बीजेपी की तरह ट्विटर पर लोगों से क्विज के जरिए सवाल पूछ रही है। एक तरफ तो जहां बीजेपी क्विज के जरिए लोगों से अपनी सरकार द्वारा लागू की गई योजनाओं के बारे में पूछती है, वहीं कांग्रेस इतिहास और बीजेपी के कामों के बारे में लोगों से सवाल पूछ रही है। कांग्रेस ने अपने इस क्विज का नाम रखा है अपनी विरासत के बारे में जानें, तो वहीं बीजेपी के क्विज का नाम है अपनी सरकार को जानें।

कांग्रेस ने ट्विटर पर सवाल पूछा कि किस प्रधानमंत्री ने 2016 में देश में नोटबंदी लागू की, जिसकी वजह से देश को अरबों रुपये का नुकसान हुआ। इसमें चार विकल्प दिए गए थे। मोरारजी देसाई, नरेंद्र मोदी, मनमोहन सिंह और अटल बिहारी वाजपेयी। इस ट्वीट पर काफी लोगों ने इसका उत्तर दिया तो 73 फीसदी लोग ही इसका सही उत्तर बता पाए। इस पर कुछ लोगों ने मजेदार रिप्लाई भी किए, एक ने लिखा कि कोई और मुद्दा लाओ यार। एक ने लिखा कि यह तुम्हारी ब्लैक मनी का लॉस था। एक ने लिखा नेशन का तो पता नहीं कांग्रेस का जोरदार लॉस हुआ है।

कांग्रेस ने यह सवाल जब पूछा जब आरबीआई ने कहा कि 99 फीसदी पुराने नोट वापस आ चुके हैं। इसके बाद कांग्रेस और दूसरी पार्टियों ने कहा था कि यह सिद्ध हो गया है कि नोटबंदी फेल साबित हुई। राहुल गांधी ने भी सवाल पूछा कि क्या नोटबंदी की वजह से हुए नुकसान की जिम्मेदारी पीएम मोदी लेंगे। राहुल गांधी सिर्फ काले धन के लिए नहीं बल्कि सरकार द्वारा 500 और 1,000 रुपये के नोटों को बंद करने के बाद आम जनता की कठिनाइयों का भी उल्लेख कर रहे थे। इससे लग रहा है कि कांग्रेस सीख रही है कि सोशल मीडिया का उपयोग कैसे किया जाता है।

इसके अलावा कांग्रेस ने एक सवाल और पूछा कि, अंडमान की सेलुलर जेल से रिहा करने के बदले, हिंदू महासभा के किस नेता ने ब्रिटिश सरकार के प्रति वफादारी की प्रतिज्ञा की थी? इस पर 5600 से ज्यादा लोगों ने अपने उत्तर दिए। इसका सही उत्तर कांग्रेस ने वीडी सावरकार बताया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग