ताज़ा खबर
 

कांग्रेस का भाजपा पर पलटवार- राहुल नहीं मोदी ने विदेशी धरती पर किया भारत का अपमान

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने मंगलवार ने कहा कि हम सरकार और सत्तारूढ़ पार्टी के इन बयानों से अचंभित है। ये आलोचनाएं न्यायोचित नहीं हैं।
कांग्रेस नेता आनंद शर्मा (फाइल फोटो)

कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि राहुल गांधी ने नहीं बल्कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विदेशी धरती पर भारत का अपमान किया है। कांग्रेस का यह बयान भाजपा के उस बयान के बाद आया है, जिसमें भाजपा ने राहुल गांधी पर आरोप लगाया था कि उन्होंने अमेरिकी विश्वविद्यालय में अपने संबोधन में प्रधानमंत्री की उपेक्षा की है। कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने मंगलवार को कहा, “हम सरकार और सत्तारूढ़ पार्टी के इन बयानों से अचंभित है। ये आलोचनाएं न्यायोचित नहीं हैं। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी द्वारा उठाए गए मुद्दे और बयानों से उनके द्वारा इतिहास की अवहेलना करना और प्रधानमंत्री से माफी मांगने की उनकी बेचैनी का पता चलता है।”

उन्होंने कहा, “राहुल गांधी ने बीते 70 वर्षो में भारत की उपलब्धियों के बारे में बात की। हम समझते हैं कि भाजपा आखिर क्यों उनकी आलोचना कर रही है। यदि राहुल गांधी देश के प्रधानमंत्री की आलोचना कर रहे हैं तो इसमें किसी को कोई आपत्ति नहीं होनी चाहिए। यह लोकतंत्र का गुण है।”

गौरतलब है कि स्मृति ने मंगलवार सुबह एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस उपाध्यक्ष की कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में उनके संबोधन का हवाला देकर उनकी आलोचना करते हुए था कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री की उपेक्षा की है। स्मृति ईरानी ने कहा कि राहुल गांधी ने एक ऐसे मंच का चुनाव किया, जहां वह अपनी सुविधा के अनुसार अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी की ओलचना कर सकें।

आनंद शर्मा ने कहा, “यह देश के प्रधानमंत्री हैं जिन्होंने विदेशी धरती पर भारत का अपमान किया। प्रधानमंत्री ने अपने पहले विदेशी दौरे पर देश को भ्रष्ट किया था और उन्होंने एक अन्य मौके पर कहा था कि विदेशों में रह रहे भारतीयों को खुद को भारतीय कहने पर शर्म आती है।”उन्होंने कहा कि यह आलोचना सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी की असहिष्णुता दर्शाती है।

बता दें कि राहुल गांधी ने कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में अपने संबोधन में नोटबंदी की आलोचना करते हुए कहा था कि केंद्र सरकार के इस फैसले से रातोंरात 86 फीसदी नकदी देश की अर्थव्यवस्था से बाहर हो गई थी। राहुल ने बढ़ रही हिंसा की घटनाओं का भी जिक्र किया। राहुल ने कहा कि अब अहिंसा के विचार पर हमला हो रहा है, लेकिन यह ही एक रास्ता है जो कि मानवता को आगे लेकर जा सकता है। राहुल ने कहा कि नफरत, गुस्सा और हिंसा हमको खत्म कर सकती है, उन्होंने कहा कि धुव्रीकरण की राजनीति काफी खतरनाक होती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. K
    krishan kumar
    Sep 12, 2017 at 11:41 pm
    राहुल गाँधी ने आदरणीय मोदी जी की कोई आलोचना नहीं की है केवल उनके गुण बताये हैं इस पर बीजेपी क्यों रो रही है. क्या बीजेपी को नरेंद्र दामोदर दास मोदी जी से नफरत हो गई है? एक दिन तो ऐसा होना ही था बीजेपी के एम् पि आखिर कब तक दामोदर दास के बेटे के ग़ुलाम रहेंगे
    (0)(0)
    Reply
    1. Pardeep Punia
      Sep 12, 2017 at 8:00 pm
      ये ठीक नहीं होगा गुलाम नबी आजाद या फिर ज्योतिरादित्य हो ...........सोनिआ वाली भूमिका में राहुल हो तो ी होगा
      (0)(0)
      Reply