ताज़ा खबर
 

कांग्रेस-राकांपा के बीच सीटों के बंटवारे पर वार्ताएं बेनतीजा

मुंबई। महाराष्ट्र में होने जा रहे विधानसभा चुनावों के लिए सीटों के बंटवारे पर फैसला करने के उद्देश्य से कांग्रेस और राकांपा नेताओं की आज सुबह बैठक हुई लेकिन उनकी वार्ताएं ‘‘बेनतीजा’’ रहीं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण राणे ने संवाददाताओं को बताया कि कोई समाधान नहीं निकल पाने की वजह से दोनों पक्षों ने […]
Author September 23, 2014 12:58 pm

मुंबई। महाराष्ट्र में होने जा रहे विधानसभा चुनावों के लिए सीटों के बंटवारे पर फैसला करने के उद्देश्य से कांग्रेस और राकांपा नेताओं की आज सुबह बैठक हुई लेकिन उनकी वार्ताएं ‘‘बेनतीजा’’ रहीं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता नारायण राणे ने संवाददाताओं को बताया कि कोई समाधान नहीं निकल पाने की वजह से दोनों पक्षों ने रात साढ़े आठ बजे फिर से मिलने का निर्णय किया है।

सुबह दोनों पक्षों की मुलाकात मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण के आधिकारिक आवास ‘वर्षा’ में हुई।

राकांपा बराबर बराबर सीटें बांटने की मांग कर रही है जिसे कांग्रेस ने ठुकरा दिया जबकि राकांपा ने राज्य की 288 विधानसभा सीटों में से 124 सीटों पर लड़ने की कांग्रेस की पेशकश खारिज कर दी है।

कांग्रेस और राकांपा का गठबंधन 15 साल पुराना है। इसे बचाए रखने और सीटों के बंटवारे को लेकर जारी गतिरोध को दूर करने के लिए सुबह हुई बैठक में राकांपा के वरिष्ठ नेता प्रफुल पटेल, राज्य के उप मुख्यमंत्री अजित पवार और पार्टी की राज्य इकाई के अध्यक्ष सुनील तत्कारे सहित अन्य नेता शामिल हुए।

बैठक में मौजूद, कांग्रेस की राज्य इकाई के अध्यक्ष मानिक राव ठाकरे ने भी बताया कि वार्ताओं का कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया।

राकांपा प्रमुख शरद पवार की अध्यक्षता में कल पार्टी की कोर समिति की बैठक हुई थी जिसमें गठबंधन बनाए रखने पर तो जोर दिया गया लेकिन यह भी कहा गया कि पार्टी को राज्य की 288 विधानसभा सीटों में से कांग्रेस द्वारा की गई 124 सीटों की पेशकश के बजाय ‘बड़ा हिस्सा’ दिया जाना चाहिए।
वर्ष 2009 में संपन्न विधानसभा चुनावों में राकांपा ने 114 सीटों पर और कांग्रेस ने 174 सीटों पर चुनाव लड़ा था। अब राकांपा 288 में से आधी सीटों पर प्रत्याशी खड़े करना चाहती है और उसका तर्क है कि राज्य में उसके पास कांग्रेस की तुलना में ज्यादा लोकसभा सीटें हैं।

लोकसभा चुनावों में राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन का अब तक का सबसे खराब प्रदर्शन रहा जब राकांपा ने 4 लोकसभा सीटें जीतीं और कांग्रेस केवल 2 सीटों पर ही जीत दर्ज कर पाई।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग