ताज़ा खबर
 

‘भारत में काम कर रहे चीनी नागरिक भारतीय भावनाओं का सम्मान करें’ OPPO दफ्तर में तिरंगे के अपमान के बाद चीन के विदेश मंत्रालय का आदेश

बीजिंग में विदेश मंत्रालय की रोजाना प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने कहा, 'हम लोगों ने रिपोर्ट देखा है , जहां तक हम जानते हैं कंपनी स्थानीय पुलिस के साथ संपर्क में है। हमें उम्मीद है कि इस मुद्दे को ठीक तरीके से सुलझाया जा सकेगा।'
नोएडा स्थित OPPO के दफ्तर में तिरंगे के अपमान का मामला सामने आया है।

दिल्ली से सटे नोएडा में चीनी मोबाइल कंपनी OPPO के बाहर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। यहां भारत के राष्ट्रीय झंडे तिरंगे को डस्टबीन में फेंकने की घटना सामने आने के बाद गुस्साये लोगों ने प्रदर्शन किया था। इसके बाद इस कंपनी के दफ़्तर के बाहर और अंदर पुलिस को तैनात कर दिया गया था। इधर चीन ने भारत में काम कर रहे अपने कंपनियों और नागरिकों की सुरक्षा की मांग की है। चीनी कंपनी OPPO अगले महीने से भारतीय क्रिकेट टीम की स्पॉन्सर भी बनने जा रही है।बीजिंग में विदेश मंत्रालय की रोजाना प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता लु कंग ने कहा, ‘हम लोगों ने रिपोर्ट देखा है , जहां तक हम जानते हैं कंपनी स्थानीय पुलिस के साथ संपर्क में है। हमें उम्मीद है कि इस मुद्दे को ठीक तरीके से सुलझाया जा सकेगा।’ लु कंग ने कहा कि चीन की सरकार विदेश में काम करने वाली अपनी कंपनियों और स्टाफ से हमेशा कहती है कि स्थानीय नियमों का पालन करें औक स्थानीय मान्यताओं और परंपराओं का सम्मान करें।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने लु कंग ने ये भी कहा, ‘ हम ये भी उम्मीद करते हैं कि चीनी कंपनियों और चीनी नागरिकों के कानूनी अधिकारों की भी वैधानिक तरीके से रक्षा की जाएगी।’

इस मामले में पुलिस ने OPPO में बतौर प्रोडक्शन मैनेजर काम कर रहे चीनी मूल के एक अधिकारी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। इस शख्स पर तिरंगे को फाड़कर डस्टबीन में फेंकने का आरोप है। पुलिस अब कंपनी से सीसीटीवी फुटेज की मांग की है ताकि घटना की सत्यता का पता लगाया जा सके।

हालांकि चीनी मीडिया में इस घटना को ज्यादा कवरेज नहीं मिली थी लेकिन वहां के सोशल मीडिया वेइबो में ये मसला खूब उछला। और वहां लोगों ने अपने अपने ढंग से प्रतिक्रिया दी। एक शख्स ने लिखा कि भारतीयों को OPPO के प्रोडक्ट का बॉयकाट करना चाहिए, जबकि एक दूसरे शख़्स ने बताया कि ये भारत और चीन के बीच तनावपूर्ण रिश्ते जारी रहने का संकेत हैं। इस घटना के सामने आने के बाद नोएडा के सेक्टर-63 स्थित OPPO दफ़्तर के बाहर लोगों ने जोरदार प्रदर्शन किया था और आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

मोबाइल कंपनी Oppo के ऑफिस में तिरंगे का अपमान; लोगों में फूटा गुस्सा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग