ताज़ा खबर
 

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस पर किरण खेर बोलीं- खतरा रात में होता है तो लड़कों को ही घरों में रखना चाहिए

Vikas Barala, Chandigarh Stalking Case: किरण खेर ने कहा कि जब सुरक्षा की बात है तो जो नियम और प्रतिबंध लड़कियों पर लागू होते हैं वही लड़कों पर भी लागू होने चाहिए।
फिल्म अभिनेत्री और बीजेपी सांसद किरण खेर। (फाइल)

आईएएस अफसर की बेटी के साथ छेड़छाड़ को लेकर पूरे देश में गुस्सा है। इसके साथ ही महिला सुरक्षा को लेकर भी एक बार फिर से सवाल उठने लगे हैं। कहा जा रहा है कि जब आईएएस अधिकारी की बेटी के साथ ऐसा हो सकता है तो आम जनता का क्या हाल होता होगा। वहीं फिल्म अभिनेत्री और बीजेपी की सांसद किरण खेर ने भी इस मामले पर अपनी बात रखी है। खेर ने बुधवार को कहा कि जब सुरक्षा की बात है तो जो नियम और प्रतिबंध लड़कियों पर लागू होते हैं वही लड़कों पर भी लागू होने चाहिए। संसद के बाहर खेर ने कहा, “अगर रात में ही सबसे ज्यादा परेशानियां होती हैं तो फिर हर एक लड़कों को रात में घर में रखा जाना चाहिए। खतरा रात में ही क्यों होता है, दिन में क्यों नहीं? ऐसे में लड़कों को भी रात में बाहर नहीं जाने देना चाहिए।”

बता दें हाल ही में वर्णिका कुंडू के साथ हुई छेड़छाड़ का मामला देशभर में सुर्खियों में है। इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर कई लोगों ने वर्णिका पर सवाल उठाते हुए कहा था कि वह देरा रात तक बाहर थी ही क्यों। इसी के जवाब में किरण खेर ने आज तीखी प्रतिक्रिया दी है। वहीं, छेड़छाड़ के इस मामले में मुख्य आरोप हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला है। बुधवार (9 अगस्त) को विकास की गिरफ्तारी हुई है। विकास के अलावा उसके दोस्त आशीष पर भी आरोप है और उसे भी गिरफ्तार किया गया है। चंडीगढ़ पुलिस के डीजीपी ने बताया कि इस मामले में अपहरण की कोशिश का भी मामला दर्ज किया गया है। बता दें विकास की गिरफ्तारी 5 अगस्त को भी हुई थी लेकिन तब उसे जमानत मिल गई थी। वहीं विकास ने अपने बचाव में हैरान करने वाले तर्क पेश किए थे। पुलिस सूत्रों के मुताबिक विकास ने कहा कि वह यह जानना चाहता था कि कार लड़की चला रही थी या लड़का और इसलिए उसने कार का पीछा किया था।

वीडियो (Source: ABP/YouTube)

वहीं इस मामले को लेकर विकास के पिता ने कहा 8 अगस्त को मीडिया के सामने कहा था, “वर्णिका कुंडू मेरी बेटी की तरह है और उसे न्याय दिलाने के लिए कानून अपना काम करेगा। विकास बराला के खिलाफ कानून के मुताबिक कार्रवाई होनी चाहिए। कानून अपना काम कर रहा है और उस पर किसी भी तरह का दबाव नहीं है। मेरा और बीजेपी का इस मामले से कोई लेना देना नहीं।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग