ताज़ा खबर
 

राम रहीम केस के जांच अधिकारी का दावा- कांग्रेस सांसदों ने बनाया था केस बंद करने का दबाव

सीबीआई जांच अधिकारी का कहना है कि कांग्रेसी सांसद इस केस को बंद कराना चाहते थे क्योंकि इस समय बाबा कांग्रेस को सपोर्ट कर रहा था।
डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह।

सीबीआई की विशेष अदालत ने बाबा राम रहीम को दो साध्वियों के बलात्कार के आरोप में दोषी मानते हुए 10-10 यानी कुल बीस साल की सजा सुना दी है। पिछले हफ्ते भर से ये मामला सुर्खियों में बना हुआ है। सभी पार्टियां जो कभी ना कभी राम रहीम करीबी रह चुकी है सजा मिलने के बाद से राम रहीम से खुद को अलग साबित करने में तुली हुई हैं। एक ऐसा ही वीडियों इस समय ट्विट पर दिख रहा है। जिससे पता चलता है इस केस की जांच के दौरान किस कदर राजनीतिक पार्टियों का दबाव बना हुआ था। इंडिया टीवी के इस वीडियों में इस केस के जांच अधिकारी रहे एम नारायणन का इंटरव्यू लिया गया है।

विडियो में नाराणयन ने कहा कि कांग्रेस के एमपी केस बंद करने के लिए दबाव बना रहे थे। नारायणन ने ऑन कैमरा कहा कि  मुझ पर केस बंद करने का दबाव था। सीनियर अफसर मुझे केस बंद करने के लिए कह रहे थे। चार पांच कांग्रेस के एमपी भी डायरेक्टर साहब से कह रहे थे कि केस बंद करो। उस समय के सीबीआई डायरेक्टर दबाव में आ गए और उनसे कहा कि केस बंद करो। सीबीआई निदेशक ने मुझे बुलाया और कहा कि बंद करो ये केस। उस समय ये बाबा कांग्रेस को सपोर्ट कर रहा था। इसके बाद नारायणन ने बताया कि कैसे उन्होंने बाबा राम रहीम के खिलाफ एक गवाह तैयार किया था।

साल 2002 में राम रहीम के खिलाफ एक गुमनाम पत्र लिखा गया था। जिसपर पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने संज्ञान लिया था। बाद में 15 सालों की जांच के बाद इस मामले में अब जाकर बाबा को सजा मिली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.