ताज़ा खबर
 

नकदी बरामदी: पूर्व केंद्रीय मंत्री समेत कई नेता ईडी के रडार पर

मध्य दिल्ली स्थित बैंक की शाखा में 44 फर्जी बैंक खातों का पता चला है। छानबीन में या खाते पूर्व केंद्रीय मंत्री समेत कई नेताओं से संबंधित पाए गए हैं।
Author नई दिल्ली | December 12, 2016 20:06 pm
दक्षिणपूर्वी दिल्ली के ग्रेटर कैलाश इलाके में छापेमारी में एक लॉ फर्म से बरामद 13 करोड़ रुपए। (PTI Photo/11 Dec, 2016)

दिल्ली समेत देशभर में हो रही नकदी बरामदगी को लेकर केंद्र जांच एजेंसियां अपने-अपने स्तर पर छानबीन में जुट गई हैं। नए नोटों में करोड़ों की नकदी की जब्ती के मामले में एक पूर्व केंद्रीय मंत्री समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता प्रवर्तन निदेशालय, आयकर विभाग और केंद्रीय जांच ब्यूरो के रडार पर हैं। दिल्ली में एक्सिस बैंक की विभिन्न शाखाओं में फर्जी बैंक खाते खुलवाकर करोड़ों रुपए मूल्य के अमान्य नोट जमा करा कर नए नोटों की निकासी या आरटीजीएस के मामले सामने आए हैं। मध्य दिल्ली स्थित बैंक की शाखा में 44 फर्जी बैंक खातों का पता चला है। छानबीन में या खाते पूर्व केंद्रीय मंत्री समेत कई नेताओं से संबंधित पाए गए हैं। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों के अनुसार, एक्सिस बैंक की चांदनी चौक स्थित शाखा के बैंक खातों में अब तक सौ करोड़ रुपए से ज्यादा के संदेहास्पद लेन-देन का पता चला है।

आठ नवंबर को विमुद्रीकरण के ऐलान के बाद इन खातों में इतनी रकम का लेन-देन किया गया। इस शाखा के दो अधिकारी ईडी की हिरासत में हैं और कई अन्य से पूछताछ चल रही है। कई निवेश सलाहकार कंपनियां और जेवरात निर्माताओं से भी पूछताछ की जा रही है। आठ नवंबर के बाद से अब तक आयकर विभाग ने 1500 करोड़ रुपए की बेहिसाबी आय का पता लगाया है। इसमें से छह दिसंबर तक 120 करोड़ की नकदी पकड़ी जा चुकी है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड के चेयरपर्सन सुशील चंद्रा के अनुसार, अब तक देश भर में दो हजार बैंक खाताधारकों को नोटिस जारी किया जा चुका है। उनके अनुसार, जनधन खातों में 50 हजार रुपए से ज्यादा जमा, बचत खातों में ढाई लाख से ज्यादा और करेंट एकाउंट में 12 लाख 50 हजार रुपए से ज्यादा जमा पर पूछताछ की जा रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.