ताज़ा खबर
 

केरल: स्कूल में बच्चों को दी जा रही थी ‘इस्लाम के लिए जान देने की सीख’, दर्ज हुआ केस

केरल के एक स्कूल पर केस होने की खबर सामने आई। कोच्ची के उस स्कूल पर आरोप है कि वहां पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को आपत्तिजनक सामग्री पढ़ाकर इस्लाम के लिए जान देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा था।
कुछ लोगों को शक है कि जाकिर नाईक के कहने पर ही स्कूल के स्लेबस में विवादित चीजें डाली गई थीं।

केरल के एक स्कूल पर केस होने की खबर शनिवार (8 अक्टूबर) को सामने आई। कोच्ची के उस स्कूल पर आरोप है कि वहां पढ़ने वाले स्टूडेंट्स को आपत्तिजनक सामग्री पढ़ाकर इस्लाम के लिए जान देने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा था। जानकारी मिली है कि इस स्कूल को ऐसा करने का आदेश देने वाला सख्स विवादित धर्मगुरु जाकिर नाईक का जानने वाला था। स्कूल का नाम पीस इंटरनेशनल स्कूल है। वह कोच्ची के इरनाकुलम में है। इस स्कूल को इलाके का एक जाना माना बिजनेसमैन चलाता है। पुलिस ने स्कूल पर आईपीसी की धारा 153A और 34 लगाई। यह मामला स्कूल के प्रिंसिपल, व्यवस्थापक और तीन ट्रस्टीज के खिलाफ दर्ज किया गया। दरअसल, स्कूल के खिलाफ इरनाकुलम जिले के शिक्षा अधिकारी ने शिकायत दर्ज करवाई थी। उन्होंने स्कूल की एक रिपोर्ट भी तैयार की थी जिसमें उन्होंने लिखा था कि स्कूल में जो कुछ भी पढ़ाई जा रहा है वह धर्म निरपेक्ष तो बिल्कुल नहीं है। यह स्कूल LKG से आठवीं तक के बच्चों को पढ़ाता है। कुछ लोगों को शक है कि जाकिर नाईक के कहने पर ही स्कूल के स्लेबस में विवादित चीजें डाली गई थीं।

जाकिर नाईक इन दिनों मुश्किलों में हैं। जब से पता चला है कि बांग्लादेश में हमला करने वाले युवा लड़के जाकिर से प्रेरित थे तब से उनका विरोध जोरों पर है। बांग्लादेश में उनपर अब बैन लगा दिया गया है। कनाडा, लंदन जैसे कई देशों में उनपर पहले ही बैन है।

वीडियो: Speed News

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग