ताज़ा खबर
 

बर्द्धवान विस्फोट जाँच: एनआईए ने 4 और लोगों को गिरफ़्तार किया

एनआईए ने आज चार लोगों को गिरफ्तार किया जिनपर प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) का कट्टर सदस्य होने का संदेह है। इन्हें संगठन के लिए कथित तौर पर भर्ती करने वाला माना जाता है। आज गिरफ्तार किये गए लोगों के साथ बर्द्धवान विस्फोट मामले की जांच के दौरान एजेंसी द्वारा गिरफ्तार किये […]
Author January 28, 2015 19:30 pm
Burdwan Blast: बर्द्धवान में दो अक्तूबर की शाम को एक घर के भीतर विस्फोट हुआ था जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी। (तस्वीर-पीटीआई)

एनआईए ने आज चार लोगों को गिरफ्तार किया जिनपर प्रतिबंधित आतंकी संगठन जमात उल मुजाहिदीन बांग्लादेश (जेएमबी) का कट्टर सदस्य होने का संदेह है। इन्हें संगठन के लिए कथित तौर पर भर्ती करने वाला माना जाता है। आज गिरफ्तार किये गए लोगों के साथ बर्द्धवान विस्फोट मामले की जांच के दौरान एजेंसी द्वारा गिरफ्तार किये गए लोगों की संख्या 16 हो गई है।

गिरफ्तार चार लोगों में दालिम शेख उर्फ फैजुल हक शेख, मोतिउर रहमान उर्फ नूर आलम, हबीबुर रहमान और ग्यासुद्दीन मुंशी शामिल हैं। इन्हें पश्चिम बंगाल के विभिन्न क्षेत्रों से गिरफ्तार किया गया है।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने विस्फोट के तत्काल बाद अंतरराष्टीय तार जुड़े होने की बात सामने आने के कुछ ही दिन बाद पश्चिम बंगाल पुलिस से मामले को अपने हाथ में ले लिया था।

बर्द्धवान में दो अक्तूबर की शाम को एक घर के भीतर विस्फोट हुआ था जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी जबकि एक अन्य गंभीर रूप से घायल हो गया था। जांच में यह बात सामने आई थी कि इसमें आईईडी तैयार किया जा रहा था जिसे बाद में बांग्लादेश भेजा जाना था।

आज की गिरफ्तारी का ब्यौरा देते हुए एनआईए ने अपने बयान में दावा किया कि दालिम शेख जेएमबी का पूर्णकालिक सदस्य है और वह अड्डा एवं ठिकाना बनाने एवं धन एकत्र करने, युवाओं को कट्टरपंथी बनाने और भारत में नेटवर्क के विस्तार के लिए जेएमबी के वरिष्ठ बांग्लादेशी सदस्यों को योजना एवं सामग्र्री उपलब्ध कराने में शामिल था।

मोतिउर रहमान विस्फोट में मारे गए शकील गाजी का करीबी सहयोगी है। समझा जाता है कि वह मुर्शिदाबाद के बेलडांगा में ठिकानों एवं प्रशिक्षण केंद्रों का रखरखाव करने तथा बम बनाने के केंद्र की देखरेख करता था।

हबीबुर रहमान जेबीएम बांग्लादेश के वरिष्ठ सदस्य साजिद का करीबी सहयोगी है जिसे एनआईए ने पहले भी गिरफ्तार किया था। वह मुर्शिदाबाद जिले के मुकीमनगर में आतंकी प्रशिक्षण केंद्र का कथित तौर पर संचालन करता था।

एनआईए ने कहा कि चौथा आरोपी ग्यासुद्दीन मुंशी अपनी पत्नी के साथ जेएमबी में शामिल हुआ था और उसने आतंकी समूह के साथ प्रशिक्षण लिया था। वह बांग्लादेशी सदस्यों को पनाहगाह मुहैया कराता था।

एनआईए ने अब तक पाया है कि जेएमबी आतंकी समूह के सदस्यों ने पश्चिम बंगाल में मुर्शिदाबाद, नदिया, मालदा, बीरभूम, बर्द्धवान और असम के बारपेटा तथा झारखंड के साहिबगंज और पाकुर जैसे क्षेत्रों में नेटवर्क स्थापित किया है।

एनआईए ने यह भी दावा किया कि जेएमबी के वरिष्ठ सदस्यों ने मुर्शिदाबाद के बेलडांगा और मुकीम नगर, बीरभूम के नानून और बर्द्धवान के खरग्राघर और सिमुलिया में आतंकी प्रशिक्षण केंद्र और बम बनाने की इकाई स्थापित की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.