ताज़ा खबर
 

बजट 2016: शिवराज सिंह की नजर में वित्त मंत्री दूरदर्शी, कांग्रेस की नजर में बाजीगर

बजट में किसानों की आय पांच साल में दोगुनी करने संबंधी लक्ष्य को क्रांतिकारी कदम बताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसान कल्याण के लिए 35984 करोड़ रुपए के प्रावधान का वह स्वागत करते हैं।
Author भोपाल | March 1, 2016 03:14 am
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (पीटीआई फाइल फोटो)

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली को दूरदर्शी बताते हुए कहा है कि केंद्र सरकार का सोमवार संसद में पेश 2016-17 का बजट किसानों, गरीबों और वंचित लोगों के हित में है और इसमें सामाजिक क्षेत्र पर खासा जोर दिया गया है। वहीं कांग्रेस ने बजट को आंकड़ों की बाजीगरी बताते हुए कहा कि बजट में 2022 तक के सपने दिखाना असंवैधानिक है, क्योंकि सरकार को केवल 2019 तक का जनादेश मिला है।

मुख्यमंत्री चौहान ने ट्वीट किया कि किसानों, गरीबों और वंचित लोगों पर बजट में उचित ध्यान दिया गया है। ‘मैं वित्त मंत्री जेटली को उनकी दूरदर्शिता के लिए बधाई देना चाहता हूं।’ उन्होंने कहा कि जेटली ने बजट 2016-17 में सामाजिक क्षेत्र, कौशल विकास और रोजगार सृजन पर जोर दिया है, जो आम जनता की अपेक्षाएं पूरी करने में मददगार होगा।

बजट में किसानों की आय पांच साल में दोगुनी करने संबंधी लक्ष्य को क्रांतिकारी कदम बताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि किसान कल्याण के लिए 35984 करोड़ रुपए के प्रावधान का वह स्वागत करते हैं। उन्होंने कहा कि कृषि और बुनियादी ढांचे पर जोर देने से निश्चित तौर पर आर्थिक विकास दर दो अंकों में पहुंचेगी। और देश की आर्थिक दशा और दिशा बेहतर बनाने के लिए वित्त मंत्री द्वारा नौ स्तंभों की रूपरेखा बताना उनकी दूरदर्शिता बयान करती है, जिससे विकास की गति तेज होगी।

दूसरी ओर, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने अपने बयान में कहा कि जेटली की पोटली से आंकड़ों की बाजीगरी ही सामने आई है। सेवा कर में 0.5 प्रतिशत का कृषि उपकर लगाकर सेवा कर 15 प्रतिशत तक करने से पहले से आसमान छू रही महंगाई को हवा देने का प्रयास किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस आधा प्रतिशत सेवा उपकर की वजह से सेवा कर के हर स्तर पर दाम बढ़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि बजट भाषण में 2022 के लिए सपने दिखाकर मोदी सरकार ने असंवैधानिक काम किया है, क्योंकि उसे केवल 2019 तक ही जनादेश मिला हुआ है। वह तयशुदा समय सीमा को पार करते हुए जनता से झूठे वायदे कर रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.