ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड में भाजपा मजबूत स्थिति में, रावत सरकार में भ्रष्टाचार चरम पर: भुवन खंडूरी

आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने के सवाल पर खंडूरी ने कहा, ‘इस बारे में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा
Author नई दिल्ली | July 17, 2016 13:08 pm
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी। (पीटीआई फाइल फोटो)

उत्तराखंड में हाल की राजनीतिक उठापटक के बावजूद राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी का मानना है कि राज्य में भारतीय जनता पार्टी मजबूत स्थिति में है और आगामी विधानसभा चुनावों को देखते हुए पार्टी जो भी निर्णय लेगी, वह सभी बातों को ध्यान में रखकर लेगी। आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने के सवाल पर खंडूरी ने कहा, ‘इस बारे में अभी कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा, जब मौका आएगा तब इस पर सोचेंगे, बहरहाल, पार्टी जो भी निर्णय लेगी और जिसे भी जिम्मेदारी देगी, सभी उसके साथ होंगे।’ हालांकि, इसके साथ ही उन्होंने यह भी जोड़ा कि पार्टी सभी बातों को ध्यान में रखकर ही निर्णय लेगी।

उत्तराखंड में भाजपा की स्थिति के बारे में पूछे जाने पर खंडूरी ने कहा, ‘राज्य की जनता है, सब कुछ देख समझ रही है। राज्य के बारे में टेलीविजन और समाचार पत्रों में जो कुछ बताया जा रहा है, सबके सामने है। मुख्यमंत्री के निजी सचिव स्टिंग ऑपरेशन में सौदा करते नजर आते हैं। खुद मुख्यमंत्री सौदेबाजी की बात करते हैं। यहां तक कि कांग्रेस के लोग भी इस सब से शर्मिंदा हैं। इसके बावजूद यदि राज्य में मौजूदा कांग्रेस सरकार के पक्ष में परिवेश होने की बात होती है तो मुझे आश्चर्य होगा।’

दो बार उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रह चुके खंडूरी ने राज्य की हरीश रावत सरकार पर पर निशाना साधते हुए कहा कि राज्य आज जितनी बुरी स्थिति में है उतना पहले कभी नहीं था। ‘राज्य की मौजूदा सरकार में न केवल भ्रष्टाचार का बोलबाला है, बल्कि इस सरकार ने राज्य की संस्कृति, उसकी देवभूमि की छवि को भी भारी नुकसान पहुंचाया है।’

उत्तराखंड में कांग्रेस के तमाम बागी नेताओं को भाजपा में शामिल किए जाने के बाद पार्टी में खींचतान की आशंका के बारे में पूछे जाने पर खंडूरी ने कहा, ‘राष्ट्रीय नेतृत्व ने जो भी निर्णय लिया वह सोच विचार कर ही लिया होगा। निर्णय पार्टी के हित को ध्यान में रखकर लिए होंगे। पार्टी को इसका फायदा होना चाहिये। हालांकि, इस बात को ध्यान में रखा जाना चाहिए कि पार्टी का मूल चरित्र प्रभावित नहीं होना चाहिए।’

राज्य में कुछ महीने पहले राष्ट्रपति शासन लगने और फिर सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद हरीश रावत सरकार के सत्ता में लौटने के घटनाक्रम से भाजपा को झटका लगने के सवाल पर पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा, ‘इस मामले में भाजपा नेतृत्व ने जो भी निर्णय लिये वह सोच विचार के बाद ही लिये होंगे, उस बारे में मेरा कोई टिप्पणी करना उचित नहीं होगा, लेकिन जनता को यह देखना चाहिए कि राज्य आज किस स्थिति में है, राज्य में अब तक की सबसे खराब सरकार चल रही है।’  वाजपेयी सरकार में केन्द्रीय मंत्री रह चुके खंडूरी ने उच्च आर्थिक वृद्धि हासिल करने के राज्य सरकार के दावों को आंकड़ों का हेरफेर बताया और कहा कि राज्य आज जिस बुरी स्थिति में है, उतना पहले कभी नहीं था।

उल्लेखनीय है कि शुक्रवार (15 जुलाई) को फिक्की महिला संगठन के एक कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि उत्तराखंड तेजी से आर्थिक वृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ रहा है और 2018-19 में राज्य की आर्थिक वृद्धि 18 प्रतिशत के उच्च स्तर पर पहुंच जाएगी। खंडूरी ने कहा, ‘राज्य में जिस तरह से भ्रष्टाचार व्याप्त है, खनन माफिया सरेआम नदियों में खनन कर रहा है, महिलाओं के मान सम्मान की रक्षा नहीं हो रही है, उसे देखते हुए तो लगता है कि राज्य में भ्रष्टाचार ही कानून बन गया है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग