ताज़ा खबर
 

राम मंदिर हमारी आस्था का प्रश्न, लेकिन उत्तर प्रदेश विस चुनाव में यह मुद्दा नहीं होगा: साध्वी निरंजन

केंद्रीय मंत्री साध्वी निंरजन ज्योति ने कहा कि हम उत्तर प्रदेश में केंद्र सरकार के विकास कार्यों के आधार पर चुनाव लड़ेंगे।
Author कानपुर | September 5, 2016 20:46 pm
केंद्रीय मंत्री साध्वी निंरजन ज्योति। (फाइल फोटो)

अयोध्या में राम मंदिर मामला अदालत के अंतर्गत विचाराधीन होने की बात कहते केंद्रीय मंत्री साध्वी निंरजन ज्योति ने सोमवार (5 सितंबर) को कहा कि उत्तर प्रदेश चुनाव में सरकार के विकास कार्य मुददा होंगे न कि राम मंदिर, क्योंकि राम मंदिर हमारी आस्था का प्रश्न है। साध्वी निरंजन सोमवार को एक न्यूज चैनल के पंचायत कार्यक्रम में बोल रही थी। राम मंदिर विषय पर पूछे गए सवाल पर उन्होंने कहा, ‘यह मामला अदालत के अन्तर्गत विचाराधीन है, इसलिए मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं दे सकती हूं। हां इतना जरूर कह सकती हूं कि यह हमारी आस्था का प्रश्न है। इसलिए उत्तर प्रदेश के आगामी विधानसभा चुनाव में मंदिर मुद्दा नहीं होगा। राममंदिर मुद्दे पर सभी राजनीतिक दलों को साथ आना चाहिए और इसका समाधान निकालना चाहिए।’

इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मंत्री कमाल अख्तर ने सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह के कार्यसेवकों पर गोली चलाए जाने के बयान का बचाव करते हुए कहा कि मुलायम सिंह उस समय एक जिम्मेदार पद थे और उन्होंने पद पर रहते हुए जो काम करना चाहिए वह किया। लेकिन जब गुजरात में दंगे हो रहे थे तो जिम्मेदार पद पर बैठे लोगों ने अपनी जिम्मेदारी नहीं निभाई। इस अवसर पर कांग्रेस नेता पीएल पुनिया ने कहा कि प्रदेश सरकार विकास का ढिंढोरा पीट रही है कि वह राजमार्ग बनवा रही है सड़कें बना रही है लेकिन जब तक गांव में गरीब की बेटी की इज्जत पर हमले होते रहेंगे तो ऐसा विकास किस काम का। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से ध्वस्त हो चुकी है लेकिन सरकार को इसकी कोई फिक्र नहीं है बल्कि सरकार अपने विकास कार्यों के बारे में बखान करने में लगी है। प्रदेश सरकार को पहले कानून व्यवस्था पर ध्यान देना चाहिए और लोगों के दिल से खौफ हटाना चाहिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.