December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

बिल गेट्स ने किया नोटबंदी का समर्थन, कहा- भारत सरकार का साहसिक फैसला

दुनिया के सबसे अमीर आदमी और माईक्रोसॉफ्ट कॉर्परेशन के मालिक बिल गेट्स ने मोदी सरकार की विमुद्रीकरण के फैसले की तारीफ करते हुए इसे अर्थव्यवस्था को पारदर्शी बनाने के लिए एक अहम फैसला बताया है।

पीएम नरेंद्र मोदी के साथ नीति आयोग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में बिल गेट्स।(Source: PTI)

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा लिए गए विमुद्रीकरण के फैसले पर मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। इसी बीच दुनिया के सबसे अमीर आदमी और माईक्रोसॉफ्ट कॉर्परेशन के मालिक बिल गेट्स ने सरकार के विमुद्रीकरण के फैसले की तारीफ की है और इसे सरकार द्वारा उठाया गया एक बोल्ड मूव बताया है।

बिल गेट्स के मुताबिक करेंसी के पुराने नोटों को नए नोटों से बदलना अर्थव्यवस्था को पारदर्शी बनाने के लिए जरूरी है। गेट्स ने आगे कहा कि नोटबंदी के इस फैसले से डिजिटल लेन-देन में तेजी से बढ़ोतरी होगी और आने वाले समय में भारत दुनिया की सबसे ज्यादा डिजिटाइज्ड अर्थव्यवस्थाओं में से एक होगी।

उन्होंने आगे कहा कि यह बढ़ोतरी सिर्फ आकार के हिसाब से नहीं बल्कि काम के फीसद के हिसाब से भी होगी। इसके अलावा बिल गेट्स ने यह भी कहा कि भारत सरकार को डिजिटाइजेशन को कामयाब बनाने के लिए सही दिशा में काम करने की अपील की। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर, मार्केट, लेबर और टैक्स जैसे जरूरी मुद्दों पर सरकार को सही कदन उठाने होंगे जिससे कि डिजिटाइजेशन बढ़ सके।

बिल गेट्स ने कहा कि भारत को भविष्य की चुनौतियों के लिए तैयार रहना होगा और टेक्नॉलजी निर्माण के क्षेत्र में ऐसा सिस्टम बनाना होगा जिससे कि वह ग्लोबल चुनौतियों का सामना कर सके। उन्होंने आगे कहा कि पूरी दुनिया की नजर भारत पर है कि वह कैसे इनोवेशन के क्षेत्र में उसके सामने आने वाली चुनौतियों का सामना करता है। गेट्स ने यह बातें नई दिल्ली में नीति आयोग द्वारा आयोजित ट्रांसफॉर्मिंग इंडिया के लेक्टर की दूसरी सीरीज कहीं और साथ ही भारत सरकार की स्टार्ट अप इंडिया और स्वच्छ भारत अभियान की भी सराहना की।

वीडियो: नोटबंदी: किसानों और शादी वाले परिवारों को बड़ी राहत; पुराने नोट बदलवाने वालों के लिए मायूसी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 17, 2016 1:56 pm

सबरंग