ताज़ा खबर
 

इखलाक का बेटा बोला- बिहार चुनाव में BJP की हार मेरे पिता को देश की श्रद्धांजलि

सितंबर में ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा गांव में मोहम्‍मद इखलाक नाम के शख्‍स की सिर्फ इसलिए हत्‍या कर दी गई थी, क्‍योंकि गांव के कुछ लोगों को उस पर गौमांस खाने का शक था।
Author बिसाहड़ा | November 10, 2015 12:29 pm
इखलाक का बेटा मोहम्मद सरताज

सितंबर में ग्रेटर नोएडा के बिसाहड़ा गांव में मोहम्‍मद इखलाक नाम के शख्‍स की सिर्फ इसलिए हत्‍या कर दी गई थी, क्‍योंकि गांव के कुछ लोगों को उस पर गौमांस खाने का शक था। इखलाक की जिस तरह से पीट-पीटकर हत्‍या की गई, उसने देश को हिलाकर रख दिया था। घटना के बाद इखलाक के घर सबसे पहले जो राजनीतिक हस्‍ती पहुंची थी, उनका नाम है महेश शर्मा। बीजेपी के कद्दावर नेता हैं और जिस क्षेत्र में घटना हुई थी, वहां के सांसद। महेश शर्मा ने हत्‍या को हादसा करार दिया था। उस वक्‍त इखलाक का बेटा मोहम्मद सरताज कोई जवाब नहीं दे पाया था, लेकिन अब उसने बीजेपी पर कड़ा प्रहार किया है।

इंडियन एयरफोर्स में कॉर्पोरल सरताज ने रविवार को बिहार चुनाव में हुई बीजेपी की हार को अपने पिता के लिए श्रद्धांजलि बताया है। उन्‍होंने मीडिया से बातचीत में कहा, ‘बिहार के लोग सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ एकजुट हो गए थे। इस देश में नफरत के लिए कोई जगह नहीं है। लोगों को महसूस करना चाहिए कि धर्म के नाम पर लड़ने से कुछ नहीं होने वाला है। मैं सभी नेताओं से अपील करता हूं कि सत्‍ता के लिए वे देश को न बांटें।’ इखलाक के बेटे ने पिता की हत्‍या के बाद कहा था कि वह गांव छोड़कर नहीं जाएगा।

इखलाक की हत्‍या के मामले पर कई बीजेपी नेताओं ने भड़काऊ बयान दिए थे। इनमें मुंबई के पूर्व कमिश्‍नर और बीजेपी सांसद सत्‍यपाल सिंह भी थे, जिन्‍होंने दादरी कांड को छोटी घटना बताया था। पार्टी के उत्‍तर प्रदेश से विधायक संगीत सोम के खिलाफ तो दादरी कांड में मुकदमा भी दर्ज है।

Also Read…

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    Babasaheb Mane
    Nov 9, 2015 at 9:14 pm
    m
    Reply
    1. B
      Babasaheb Mane
      Nov 9, 2015 at 9:10 pm
      Salute to MR. IKLAKS SON Mohamad Sartaj
      Reply
      1. B
        Babasaheb Mane
        Nov 9, 2015 at 9:11 pm
        सलाम
        Reply
        1. B
          B.UPADHYAY
          Nov 9, 2015 at 9:11 am
          Manish Jain ‏@aapkamanish 8h8 hours ago अब ये अफवाह कौन फैला रहा है के मोदी जी नजीब जंग को बिहार का राज्यपाल बनाकर शासन करने की तैयारी कर रहे हैं। 😝 @Ankita_Shah8 @aartic02 @pj77in
          Reply
          1. A
            AjaySingh 🇮🇳
            Nov 9, 2015 at 12:47 pm
            आपिये ही फैला रहे होंगे , उनको मोदी ने ने फोन किआ होगा और अपना प्रोग्राम बता दिए होगा
            Reply
          2. B
            B.UPADHYAY
            Nov 9, 2015 at 9:12 am
            बिहार के चुनाव के नतीजो से देश और देश की जनता को बाटनेवाले देश के अंदर छिपे देशद्रोही नेता ,देशद्रोही लोकसेवक,देशद्रोही नागरिक ,भरषटाचारी सोच ले और सुधर जाएँ वरना यदि देशभक्त,मानवातप्रेमी,राष्ट्र भक्त आप को दफ़न करने मे लग गये तो आपका नामोनिशान ख़त्म कर देंगे. दिल्ली और बिहार चुनाव मे आपका कोई प्रलोभन नही चला. बिहार और दिल्ली के चुनाव मे मानवो , देशप्रेमियो और ईमानदारो की जीत है. बिहार और दिल्ली की जनता,वोटर्स को मेरा दंडवत नमन. सत्य और न्याय के मालिक की जय हो.
            Reply
            1. B
              B.UPADHYAY
              Nov 9, 2015 at 9:14 am
              याद करो-सोचो-मनन करो-जागो ------------8------ बिहार चुनाव के समय मे नेताओ के बोल , राष्ट्र के नागरिक़ो को धर्म,जाती,संप्रदाय,मज़हब मे बाटने के हथकंडे. भोली जनता को लुभाने की,गुमराह करने की कोशिसे देश और लोकतंत्र के लिए शर्मसार थी. राष्ट्रभक्तो,मानवो , ईमान के रखवालो और सुध धर्म के जानकारो को देश मे छिपे ग़द्दारो को दफ़न करना होगा . लेकिन एसा न हो की आज़ादी के समय की तरह मानव , देशप्रेमी शहीद हो जाए और देश दुबारा के हाथो मे चला जाए. मेरा करबध निवेदन है की देशप्रे
              Reply
              1. B
                B.UPADHYAY
                Nov 9, 2015 at 9:15 am
                याद करो-सोचो-मनन करो-जागो ------------8--------- बिहार चुनाव के समय मे नेताओ के बोल , राष्ट्र के नागरिक़ो को धर्म,जाती,संप्रदाय,मज़हब मे बाटने के हथकंडे. भोली जनता को लुभाने की,गुमराह करने की कोशिसे देश और लोकतंत्र के लिए शर्मसार थी. राष्ट्रभक्तो,मानवो , ईमान के रखवालो और सुध धर्म के जानकारो को देश मे छिपे ग़द्दारो को दफ़न करना होगा . लेकिन एसा न हो की आज़ादी के समय की तरह मानव , देशप्रेमी शहीद हो जाए और देश दुबारा के हाथो मे चला जाए. मेरा करबध निवेदन है की देशप्रे
                Reply
                1. B
                  B.UPADHYAY
                  Nov 9, 2015 at 9:14 am
                  याद करो-सोचो-मनन करो-जागो ------------8------------बिहार चुनाव के समय मे नेताओ के बोल , राष्ट्र के नागरिक़ो को धर्म,जाती,संप्रदाय,मज़हब मे बाटने के हथकंडे. भोली जनता को लुभाने की,गुमराह करने की कोशिसे देश और लोकतंत्र के लिए शर्मसार थी. राष्ट्रभक्तो,मानवो , ईमान के रखवालो और सुध धर्म के जानकारो को देश मे छिपे ग़द्दारो को दफ़न करना होगा . लेकिन एसा न हो की आज़ादी के समय की तरह मानव , देशप्रेमी शहीद हो जाए और देश दुबारा के हाथो मे चला जाए. मेरा करबध निवेदन है की देशप्रे
                  Reply
                  1. M
                    Mohd Mohsin
                    Nov 9, 2015 at 6:25 pm
                    सच..आप न्य हिन्दू मुस्लिम सब एक .य राजनेता अपनी सत्ता क आपस म लाद्यै कर व र य य गलत ह सब मिलकर नेता लगी का जवाब देना भाइयो ..आअप स गुजारिश ह.जो बी नेता गलत भासन देता ह उस को मुह तोड़ जवाब देना ह. जसाई बिहार की जनता न्य जवाब दिय्या ह सुक्रिया दोस्तों
                    Reply
                    1. S
                      Satish Verma Bhopal
                      Nov 14, 2015 at 9:41 pm
                      भाजपा को अच्छा सबक मिला. सत्ता के लिये खून बहाना निंदनीय है.
                      Reply
                    2. V
                      vicky
                      Nov 20, 2015 at 6:53 pm
                      This can't be accepted..this shows the hatredness running in our society...if he is correct then wt abt Prashant pujari in bangalore..it was a conspiracy against central gov. nd Hindus...we accept all religion with open heart BT any sort of discrimination can't be accepted....Muslim appeat policy can't be accepted..y this happened at the time of bihar poll only..theres a need of proper investigation on this bt y no one is talking abt Prashant pujari becoz he was a Hindu..????
                      Reply
                      1. Load More Comments
                      सबरंग