ताज़ा खबर
 

पठानकोट हमले के हीरो का परिवार दुखी, पहले देश के लिए खोया भाई अब गंवाना पड़ेगा घर    

निरंजन ने देश के लिए जान कुर्बान कर दी, अगर उसके बाद भी ऐसा होता है तो यह देश के लिए शर्म की बात होगी।
Author बंगलुरु | August 11, 2016 14:05 pm
एनएसजी कमांडो लेफ्टिनेंट कर्नल निरंजन कुमार (FILE PHOTO)

पठानकोट हमले में शहीद में हुए एनएसजी कमांडो निरंजन कुमार का घर तोड़ा जा रहा है। बरुत बैंगलोर महानगर पालिका ने (BBMP) बंगलुरु में उन वॉटर ड्रैैन्स (नालियों और नालों) अतिक्रमणों की सूची बनाई है, जिनके कारण बारिश में पानी जमा होता है। लिस्ट में पठानकोट हमले में शहीद हुए निरंजन कुमार का घर भी शामिल है। निरंजन कुमार केे भाई शशांक  का कहना है कि यह अच्छी बात नहीं है, यह देश के लिए शर्म की बात है कि एक नेशनल हीरो का घर गिराया जा रहा है।

शहीद निरंजन कुमार के भाई ने एएनआई को बताया कि यह बर्दाश्त करना हमारे के लिए बहुत मुश्किल है, पहले पठानकोट हमले में भाई को खोया और अब अपने घर को गिरते हुए देखने होगा है। उन्होंने कहा, ‘मैं घर न गिराने का अनुरोध करता हूं क्योंकि निरंजन ने देश के लिए अपनी जान कुर्बान कर दी, अगर मेरे अपील करने के बाद भी ऐसा होता है तो यह देश के लिए शर्म की बात होगी। उन्होंने बताया कि जिन तीन पिलर्स पर उनका घर खड़ा है उनमेंं से एक को गिराने के लिए बीबीएमपी प्रशासन ने चिन्हित किया है।

शंशाक ने बताया कि वह यहां 20 सालों से रह रहे थे और अब बिना पहले से सूचित किए उनके घर को गिराया जा रहा है। अगर हमे पहले से जानकारी दी जाती तो हम इस मामले में कुुछ कर सकते थे। उन्होंने सरकार से इस मामले को देखने का अनुरोध किया है। हालांकि बीबीएमपी ने अपने अतिक्रमण हटाओ अभियान को जारी रखते हुए विद्यारन्यापुरा में और भी कई इमारतोंं को चयनित किया है। इसके अलावा येलाहंका, राजाराजेश्वरी नगर समेत कुछ इलाकों में भी इस तरह की प्रॉपर्टीज को चिन्हित किया गया है। गौरतलब है कि हाल ही में कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दारमैया नेे नालियों-नालों पर अवैैध अतिक्रमण के मामले में  20 सरकारी अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की थी।

 

 

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.