ताज़ा खबर
 

ओबामा की यात्रा ने नरेंद्र मोदी के चेहरे को बेनकाब किया: लालू यादव

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ओर से भारत को धार्मिक सहिष्णुता के महत्व दिए गए सुझावों पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद ने दुख व्यक्त करते हुए आज कहा कि महात्मा गांधी जैसे महापुरुषों के देश को आज उपदेश सुनना पड़ रहा है। पटना में आज लालू ने कहा, ‘‘जिस देश ने विश्व को […]
Author January 28, 2015 19:52 pm
लालू प्रसाद ने भाजपा पर सत्ता के नशे में चूर होने का आरोप लगाया। (तस्वीर-पीटीआई)

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ओर से भारत को धार्मिक सहिष्णुता के महत्व दिए गए सुझावों पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद ने दुख व्यक्त करते हुए आज कहा कि महात्मा गांधी जैसे महापुरुषों के देश को आज उपदेश सुनना पड़ रहा है।

पटना में आज लालू ने कहा, ‘‘जिस देश ने विश्व को महात्मा गांधी जैसा व्यक्तित्व दिया। जिनके अहिंसा के सिद्धांत को मार्टिन लूथर किंग और नेलसन मंडेला ने अपनाया उसे आबोमा की ओर से रंगभेद और धर्म के आधार पर लोगों में भेद नहीं करने का सुझाव दिया जा रहा है। अब क्या बचा है।’’

पटना स्थित राजद के प्रदेश मुख्यालय में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जननायक कर्पूरी ठाकुर की जयंती को लेकर आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए लालू ने कहा, ‘‘देश पर बहुत बड़ा खतरा मंडरा रहा है क्योंकि इसे धर्म के नाम पर बांटा जा रहा है। वे (भाजपा) सत्ता में बने रहने के लिए धर्मांतरण का साथ लेकर आए हैं। ओबामा धन्यवाद के पात्र हैं, हमें मोदी के असली रंग का पता चला है।’’

बराक ओबामा की भारत यात्रा पर राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद ने प्रहार करते हुए कहा, इसने यह स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा ‘अमेरिकी पार्टी’ है। अमेरिका और वहां रह रहे लोगों ने पिछले वर्ष लोकसभा चुनाव में बड़ी भूमिका निभाई है।

लालू ने कहा, ‘‘ओबामा के आने पर हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य केंद्रीय मंत्री उनका स्वागत करने हवाई अड्डा जाते हैं, लेकिन जब हमारे मंत्री अमेरिका जाते हैं तो उनका कोई आदर नहीं होता। उनकी जामा तलाशी होती है।’’

भाजपा पर अपना प्रहार जारी रखते हुए लालू ने कहा कि जननायक कर्पूरी ठाकुर जी का सपना दबे-कुचले लोगों को एकजुट करना और उनका विकास सुनिश्चित करना था पर भाजपा उसके विपरित काम कर रही है।

उन्होंने कहा कि पूरी के शंकराचार्य कहते हैं दलित को मंदिर में प्रवेश करने से रोका जाना सही है। एक अन्य साधु कहते हैं कि हिंदुओं को दस बच्चे पैदा करना चाहिए। वे सार्इंबाबा का विरोध करते हैं जिन्होंने कहा है कि सभी के लिए ईश्वर एक हैं और हिंदू-मुस्लिम एकता को बढ़ावा दिया।

लालू ने लोगों से देश को बंटने से बचाने के लिए आंदोलन छेड़ने का आह्वान करते हुए कहा कि उन्होंने ही पिछड़ी जाति के लिए मंडल आयोग की अनुशंसाओं को लागू किया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Arshad
    Jan 29, 2015 at 10:24 am
    भारत में कही भी आर टी आई (सूचना का अधिकार ) फॉर्म ऑनलाइन जमा करने के लिए इस वेबसाइट पे जाये. s:www.filertionline/
    (0)(0)
    Reply