December 02, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी पर बाबा रामदेव बोले- जब सैनिक कई दिनों तक भूखे रह सकते हैं तो हम देश के लिए ऐसा क्यों नहीं कर सकते?

बाबा रामदेव ने पहले नोटबंदी के फैसले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी।

Author नई दिल्ली | November 13, 2016 15:44 pm
बाबा रामदेव। (FilePhoto by Neeraj Priyadarshi/Indian Express)

योगगुरु बाबा रामदेव ने रविवार को कहा कि अगर हमारे जवान सीमा पर जंग लड़ते हुए कई दिनों तक बिना खाना रह सकते हैं। तो जो लोग पैसे निकालने के लिए बैंकों के बाहर खड़े हैं वो ऐसे क्यों नहीं कर सकते? न्यूज एजेंसी एएनआई ने रामदेव के हवाले से लिखा है, ‘युद्ध के दौरान हमारे जवान 7-8 दिन तक बिना खाना खाए रहते हैं तो क्या हम हमारे देश के लिए ऐसा नहीं कर सकते?’ पैसा निकालने और जमा कराने कि लिए लोगों की बैंकों और एटीएम के बाहर लगी लंबी लाइनों ने मीडिया की सुर्खियों का हिस्सा बनी हैं। शनिवार को मध्यप्रदेश में स्थानीय लोगों ने राशन की एक दुकान को इसलिए लूट लिया, क्योंकि उसके मालिक ने 500 और 1000 रुपए के नोट लेने से मना कर दिया। इसके साथ ही बैंकों और एटीएम के बाहर लोगों की लंबी लाइनें लगी हैं। लोग पूरे-पूरे दिन लाइन में खड़े होकर पैसे बदलवाने के लिए अपनी बारी का इंतजाार कर रहे हैं।

बाबा रामदेव ने इससे पहले 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने के फैसले के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ की थी। उन्होंने कहा था कि इससे आतंकवाद, नक्सलवाद और गैर-कानूनी धंधों पर रोक लगाने में मदद मिलेगी। रामदेव ने कहा था, ‘पूरा देश कालाधन, भ्रष्टाचार, गैरकानूनी धंधों पर रोक लगाने के फैसले के लिए पीएम मोदी को बधाई दे रहा है।’ रामदेव ने गुरुवार को जयपुर में कहा था ‘नरेन्द्र मोदी प्रथम प्रधानमंत्री है जिन्होंने साहसी कदम उठाया है ,इसके दूरगामी परिणाम निकलेंगे। नरेंद्र मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री कार्यकाल के दौरान मैं गुजरात गया था। उस वक्त मैंने भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए पांच सौ और एक हजार रूपये का नोट बंद करने का सुझाव दिया था। लेकिन उस वक्त उनके पास यह शक्ति नहीं थी जब अधिकार मिला तो उन्होंने (नरेंद्र मोदी) साहस भरा निर्णय लिया। प्रधानमंत्री के इस निर्णय से नक्सलवाद और अपराधों पर अंकुश लगेगा।’

साथ ही उन्होंने कहा था, हम तो बाबा जी है, बैंक में खाता खोला ही नहीं है, हजार और पांच सौ के नोट अपने पास तो थे ही नहीं इन नोट को बंद करके बहुत अच्छा काम किया है, यहां तो जेब ही नहीं है।’

बता दें, बाबा रामदेव ने 2011 में अन्ना हजारे के भ्रष्टाचार के खिलाफ आंदोलन के दौरान तत्कालीन कांग्रेस सरकार को 500 और 1000 रुपए के नोट बंद करने की सलाह दी थी।

वीडियो में देखें- 500 रुपए और 1000 रुपए के नोट बंद करने पर बोले योग गुरु बाबा रामदेव; कहा- “ईमानदार, देशभक्त पीएम मोदी को मुबारकबाद देता हूं”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 13, 2016 2:37 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग