December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

महीने के अंत तक खत्म होगी लोगों की मुश्किल, सभी एटीएम तैयार, नए नोट छापने का काम भी पूरा

नोटबंदी के बाद लोगों को हो रही परेशानी महीने के अंत तक खत्म हो सकती हैं।

नोटबंदी से परेशान लोग बैंक के बाहर खड़े हुए।

नोटबंदी के बाद लोगों को हो रही परेशानी महीने के अंत तक खत्म हो सकती हैं। एनडीटीवी की खबर के मुताबिक, सूत्रों से पता चला है कि 2000 रुपए के नए नोट छापने का काम पूरा हो चुका है और दुनियाभर के लगभग 2 लाख से ज्यादा एटीएम की भी सेटिंग की जा चुकी है। अब वे 500 और 2000 रुपए के नए नोट निकाल सकेंगे। इससे पहले गुरुवार को सरकार ने नोट बदली की लिमिट को 4500 रुपए से कम करके 2000 रुपए कर दिया था। इसके अलावा बैंक और पोस्ट ऑफिस से अब एक बार ही पैसे बदले जा सकेंगे। हालांकि, पुराने नोट 30 दिसंबर तक जमा करवाए जा सकेंगे। मोदी सरकार द्वारा 8 नवंबर को नोटबंदी के ऐलान के बाद से लोग परेशान हैं। 500-1000 रुपए के नोट बंद होने के बाद से लोग लगातार बैंकों और एटीएम के चक्कर काट रहे हैं। कुछ लोग को दिन-रात एटीएम के बाहर ही बिता देते हैं।

लोगों को राहत देने के लिए सरकार द्वारा वक्त-वक्त पर नए कदम उठाए जा रहे हैं। जिन घरों में शादी है उनकी दिक्कतों को देखते हुए अब वित्त मंत्रालय ने शादी का कार्ड दिखाकर 2.5 लाख रुपए निकालने की इजाजत दे दी है। हालांकि, नोटबंदी के बाद लोगों को हो रही परेशानी के लिए सरकार को विपक्ष घेर रहा है। लेकिन सरकार इस बात पर टिकी हुई है कि उसका फैसला बिल्कुल ठीक है। पीएम मोदी ने जापान से लेकर गोवा तक में नोटबंदी के फैसले को सही ठहराते हुए विपक्ष को घेरा था। एक भाषण में तो पीएम मोदी भावुक भी हो गए थे। कार्यक्रम में मोदी ने राहुल गांधी पर भी निशाना साधा था। मोदी ने कहा था, ‘जिन लोगों ने 2जी स्कैम, कोयला घोटाला किया उन्हें अब 4000 रुपए बदलने के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ता है। अपने भाषण के अंत में मोदी ने कहा था, ‘कैसे-कैसी ताकतों से मैंने लड़ाई मोल ली है मैं जानता हूं। वे मुझे जिंदा नहीं छोड़ेंगे। मुझे बर्बाद कर देंगे। आप लोग 50 दिन मेरी मदद करें।’

नोटबंदी को लेकर संसद के दोनों सदनों में भी लगातार हंगामा हो रहा है। पीएम मोदी की अपील के बावजूद संसद के दोनों सदनों में हंगामे का दौर जारी है।

वीडियो: नोटबंदी: किसानों और शादी वाले परिवारों को बड़ी राहत; पुराने नोट बदलवाने वालों के लिए मायूसी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 11:03 am

सबरंग