December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

असम में संदिग्ध उल्फा आतंकियों के साथ मुठभेड़ में 3 जवान शहीद, 4 घायल

असम के डीजीपी मुकेश सहाय ने जानकारी दी है कि उल्फ के संदिग्ध आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में एक जवान शहीद हो गया है और चार घायल हो गए हैं।

अलगाववादी संगठन उल्फा (फाइल फोटो)

असम में तिनसुकिया जिले के पेंगेरी में उल्फा (आई) और एनएससीएन (के) के उग्रवादियों ने सेना के एक काफिले पर शनिवार (19 नवंबर) को घात लगाकर हमला किया जिसमें सेना के तीन जवान शहीद हो गए और चार अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। एक रक्षा प्रवक्ता ने बताया कि 15 उग्रवादियों के एक समूह ने शनिवार तड़के सैन्य काफिले पर हमला किया और दो वाहनों को क्षतिग्रस्त कर दिया जिससे एक जवान मौके पर ही शहीद हो गया और छह अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्होंने बताया कि घायल जवानों में से दो जवानों ने अस्पताल ले जाते समय रास्ते में दम तोड़ दिया। तिनसुकिया के पुलिस अधीक्षक मुग्धाज्योति महंत ने बताया कि एनएससीएन (के) और उल्फा (आई) के उग्रवादियों ने रॉकेट चालित ग्रेनेड (आरपीजी), एके 47 राइफल और मोर्टार समेत अत्याधुनिक हथिायारों से संयुक्त रूप से घात लगाकर हमला किया। सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की लेकिन उग्रवादी बच कर भाग निकलने में सफल रहे और अभी इस बात का पता नहीं चल पाया है कि उग्रवादियों में से कोई हताहत हुआ है या नहीं। घात लगाकर किए गए इस हमले में एक जीप एवं एक शक्तिमान ट्रक पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गए। प्रवक्ता ने बताया कि इलाके में अभियान तेज कर दिए गए हैं। सेना, पुलिस एवं सीआरपीएफ के जवानों ने इलाके को घेर लिया है और बड़े स्तर पर तलाश अभियान चलाया जा रहा है। इस कार्य के लिए हेलीकॉप्टरों की भी सेवाएं ली जा रही हैं।

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से बात की और हालात की जानकारी ली। सोनोवाल ने गृहमंत्री को घटना, विस्फोट के बाद पैदा हुई स्थिति और अपराधियों को पकड़ने के लिए उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी। सिंह ने कहा, ‘मैं तिनसुकिया में विस्फोट में सेना के जवानों के शहीद होने पर बहुत दुखी हूं और घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।’ असम के मुख्यमंत्री ने घटना की कड़ी निंदा की और पुलिस महानिदेशक मुकेश सहाय को घटनास्थल पर जाकर स्थिति की समीक्षा करने का निर्देश दिया। उन्होंने यहां कहा, ‘हम इस घटना की कड़ी निंदा करते हैं। अभियान तेज किए जाएंगे और उग्रवादियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। किसी को बख्शा नहीं जाएगा।’ यह पेंगेरी में उल्फा (आई) का तीन दिन में दूसरा हमला है। इससे पहले श्रमिकों के वेतन का भुगतान करने के लिए नए नोटों को बागान ले जा रहे एक वाहन पर 16 नवंबर को गोलीबारी की गई थी। इस हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए थे।

वीडियो: Speed News: जानिए दिन भर की पांच बड़ी खबरें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 19, 2016 9:57 am

सबरंग