ताज़ा खबर
 

सीएम अरविंद केजरीवाल की मुसीबत बढ़ी, अरुण जेटली मानहानि केस में चलेगा मुकदमा

जेटली ने अपने ऊपर लगे इन आरोपों को सरासर झूठ बताया था और केजरीवाल पर मानहानि का आरोप लगाते हुए 10 करोड़ का हर्जाना मांगा है।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (PTI File Photo)

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ सकती है। पटियाला हाउस कोर्ट ने मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ मानहानि केस में ट्रायल चलाने का आदेश दे दिया है। दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल और दूसरे AAP नेताओं के खिलाफ वित्त मंत्री अरुण जेटली ने मानहानि का मुकदमा दर्ज कराया है। बता दें कि अरविंद केजरीवाल समेत कई AAP नेताओं ने अरुण जेटली पर आरोप लगाया था कि दिल्ली ड्रिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन का अध्यक्ष रहते हुए उन्होंने 2013 तक वित्तीय धोखाधड़ी की है। जेटली ने अपने ऊपर लगे इन आरोपों को सरासर झूठ बताया था और केजरीवाल पर मानहानि का आरोप लगाते हुए 10 करोड़ का हर्जाना मांगा है। इस केस में जेटली ने 2015 में मामला दायर करके केजरीवाल, राघव चड्ढा, कुमार विश्वास, आशुतोष, संजय सिंह और दीपक वाजपेयी पर मानहानि का केस दर्ज कराया है।

आज (25 मार्च ) अदालत में सुनवाई के दौरान सीएम केजरीवाल समेत दूसरे आप नेताओं ने इस मामले में लगे अारोपों को निराधार बताया और ट्रायल चलाने की मांग की। अब इस मुकदमे की सुनवाई 20 मई को होगी।  इससे पहले बीजेपी के वरिष्ठ नेता और वित्त मंत्री अरुण जेटली ने आरोप लगाया है कि आप नेताओं ने कथित रुप से सार्वजनिक मंचों के जरिये उनके परिवार के सदस्यों पर हमला किया था, इसमें सोशल मीडिया भी शामिल था, जेटली ने आरोप लगाया था केजरीवाल के इन आरोपों से उनके सम्मान को चोट पहुंची है और समाज में उनकी प्रतिष्ठा धूमिल हुई है।

अरविंद केजरीवाल ने अपनी ओर से इस मुकदमे की पैरवी के लिए देश के वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी को लगाया है। अदालत में कई बार इस केस पर राम जेठमलानी और अरुण जेटली के बीच गरमागरम बहस हो चुकी है। इस केस की बहस के दौरान एक बार राम जेठमलानी ने अरुण जेटली से पूछा था कि ‘क्या आपके सम्मान को पहुंचे चोट का ये मामला कहीं ‘महानता के आपके निजी एहसास’ से तो जुड़ा नहीं है। इसी दौरान जेटली ने कहा कि मेरे सम्मान को जो हानि हुई है उसका आकलन मुश्किल है और इससे मुझे बेहद तनाव पहुंचा है।

 

दिल्ली: अरविंद केजरीवाल की चुनाव आयोग से मांग- "ईवीएम की जगह बैलेट पेपर से करवाए जाएं MCD चुनाव"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    madan gupta
    Mar 26, 2017 at 6:56 am
    jethmalani has never won any case, may be a ram bapu, manu sharma kiler of j ica lal.
    (0)(0)
    Reply
    1. M
      MANISH AGRAWAL
      Mar 25, 2017 at 10:19 pm
      अब आया ऊंट पहाड़ के नीचे ! सीनियर अधिवक्ता अरुण जेटली अपना मुकद्दमा खुद लड़ेंगे और इंशाअल्लाह ,अरविन्द केजरीवाल जेल जायेगा ! भृस्टाचार के खिलाफ लड़ाई करने का स्वांग करके, राजनीती मे आया अरविन्द केजरीवाल,कांग्रेस के प्रवक्ता की तरह सिर्फ भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को गाली देने को अपने कर्तव्य की इतिश्री मान रहा था ! जेएनयू मे देशविरोधी नारे लगे तो इसने समर्थन किया ! भृस्टाचार के मसीहा चाराचोर लालूप्रसाद यादव से इसने बिहार में मंच साझा किया ! जनता से झूठ बोलकर चुनाब जीता की न सरकारी गाड़ी लूंगा ,न सरकारी बंगला लूंगा ,न सिक्युरिटी लूंगा ,पर अब इसके पास सरकारी गाड़ी ,सरकारी बंगला, झेड प्लस सिक्युरिटी सभी कुछ है और ये तथाकथित आम आदमी ,ख़ास आदमी यानि वी वी आयी पी बन बैठा ,इस धोखेबाज़,मक्कार की आखिरी जगह तिहाड़ जेल है !
      (0)(0)
      Reply
      1. R
        Rajendra Vora
        Mar 25, 2017 at 8:07 pm
        is fors foundation aur naksali aadmi ko apni jagah dihai jaye.
        (0)(0)
        Reply