ताज़ा खबर
 

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय के कुलपति का भाजपा सांसद पर हमला, कहा- शहर का माहौल खराब ना करें

मालूम हो कि भाजपा सांसद गौतम ने गत 13 जुलाई को एएमयू के कुलपति शाह को लिखे खत में उन पर एक बयान जारी करके छात्रों को उकसाने का आरोप लगाया था।
Author अलीगढ़ | July 17, 2016 18:16 pm
आलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी (फाइल फोटो)

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) के कुलपति जमीरुद्दीन शाह और क्षेत्रीय भाजपा सांसद सतीश गौतम के बीच चल रहे पत्र-युद्ध में शाह ने एक चिट्ठी लिखकर सांसद से कहा है कि वह शहर के शांति और सौहार्द का वातावरण खराब ना करें। सांसद ने शाह पर ‘भड़काऊ बयान जारी करने’ का आरोप लगाया था। एएमयू कुलपति ने खुद को पत्र भेजने वाले अलीगढ़ से सांसद सतीश गौतम को पिछले दिनों भेजे गए जवाबी खत में उनसे कहा कि वह उन्हें ‘धार्मिक कट्टरपंथी’ के तौर पर पेश करके उनकी धर्मनिरपेक्षता पर सवाल ना खड़े करें।

मालूम हो कि गौतम ने गत 13 जुलाई को शाह को लिखे खत में उन पर एक बयान जारी करके छात्रों को उकसाने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था कि शाह ने बयान में संकेत दिए थे कि अगर एएमयू के अल्पसंख्यक दर्जे से इनकार किया गया तो विश्वविद्यालय परिसर में अव्यवस्था फैल सकती है। सांसद ने एएमयू कुलपति पर विश्वविद्यालय में गड़बड़ी पैदा करने वाले बयान जारी करने का आरोप लगाते हुए उन पर संवैधानिक ढांचे में विश्वास ना करने का इल्जाम भी लगाया था।

शाह ने अपने जवाबी खत में कहा कि उन्होंने पिछले दिनों जिस मुद्दे को लेकर बयान जारी किया था, वह बेहद ‘भावनात्मक’ है और एएमयू के अल्पसंख्यक चरित्र को नुकसान पहुंचाने वाले किसी भी कदम से भावनाएं हिलोरें ले सकती हैं। उन्होंने कहा, ‘यह कहना बिल्कुल गलत है कि मैं भारत के संविधान में भरोसा नहीं करता हूं या फिर मैंने उच्चतम न्यायालय पर कोई सवाल उठाया है। मुझे न्यायपालिक और अपने प्रधानमंत्री के विवेक पर पूरा भरोसा है।’ शाह ने कहा कि अगर भाजपा सांसद को उनके बयान पर कोई संदेह है तो उन्हें सीधे उनसे ही यह बात कहनी चाहिए थी, ना कि खत लिखने के बाद उसे तुरन्त सार्वजनिक करना।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग