December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

…तो मुंबई में टैक्सी चला रहे होते अमिताभ बच्चन

इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान अमर सिंह ने कहा मैंने अपनी जिंदगी के 20 साल बच्चन परिवार को दिए हैं।

अमर सिंह समाजवादी पार्टी के महासचिव हैं।

समाजवादी पार्टी के महासचिव अमर सिंह ने बच्चन परिवार के बारे में बयान देते हुए कहा कि अमिताभ अपने भाई अजिताभ के बहुत करीब थे। इनके बीच कोई नहीं आ सकता था। जब दोनों अलग हुए तब अमिताभ पूरी तरह से टूट गए थे। उस वक्त मैं अमिताभ के करीब आया। अमर सिंह ने इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान ये बात कही। अमर सिंह से यह सवाल पूछा गया था कि क्या उन्होंने बच्चन परिवार में अलगाव पैदा किया। अमर सिंह ने आगे कहा कि मैं अमिताभ की जिंदगी में तब आया जब उनका घर नीलाम होने वाला था। मैंने बिना किसी स्वार्थ के उनकी मदद की। अमर सिंह ने कहा कि अमिताभ ने खुद ऑन रिकॉर्ड ये बात कही है कि अगर अमर सिंह न होते तो मैं मुंबई में टैक्सी चला रहा होता। मैं ऐसे वक्त में भी अमिताभ के साथ था जब उनके भाई अजिताभ भी उनके साथ नहीं थे। फिलहाल अब मेरा बच्चन परिवार से कुछ लेना देना नहीं है। यह मेरी गलती है कि मैं बहुत प्रतिक्रियावादी हूं। अगर मुझे ऐसा लगता है किसी ने मेरे साथ गलत किया है तो मैं इस बात को कभी भुला नहीं पाता। अमिताभ ने मेरे साथ जो भी किया मुझे उस पर चुप बैठना चाहिए था। पर ये सब टीवी चैनल्स पर बार बार दिखाया जाता था।

वीडियो: जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान द्वारा एक बार फिर सीज़फायर का उल्लंघन करने से लेकर अमर सिंह के समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव बनने तक, जानिए देश और दुनिया की पांच बड़ी खबरें

यह पूछे जाने पर कि जब आप अमिताभ के बारे में बात करते हैं तो आपके अंदर से एक दर्द झलकता है, अमर सिंह ने जवाब दिया कि जो अब मेरे साथ नहीं है उस बारे में सोचना बेकार है। मैंने अपनी जिंदगी के 20 साल बच्चन परिवार को दिए हैं। अपनी बेटियों से ज्यादा मैंने अभिषेक और श्वेता बच्चन का ख्याल रखा है। मैंने उनके बुरे वक्त में उनका साथ दिया है और आप कहते हैं कि आपको मेरे अंदर दर्द दिखाई देता है तो क्या मैं अब दर्द भी नहीं दिखा सकता। मैं इंसान हूं भगवान नहीं।

Read Also: अमर सिंह ने खुल कर की राहुल गांधी की तारीफ, कहा- वह सत्‍ता के भूखे और आदर्शों से समझौता करने वाले नहीं हैं

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 20, 2016 1:04 pm

सबरंग