ताज़ा खबर
 

अकाली दल के नेता ने कहा- सिख भारत माता की जय के नारे नहीं लगा सकते

उन्‍होंने कहा कि सिखों को वाहेगुरु जी का खालसा, वाहेगुरु जी की फतेह कहना चाहिए।
शिरोमणि अकाली दल(अमृतसर) के नेता सिमरनजीत सिंह मान।

कट्टर सिख नेता सिमरनजीत सिंह मान ने कहा है कि सिख भारत माता की जय के नारे नहीं लगा सकते। क्‍योंकि सिख किसी भी रूप में महिला की पूजा नहीं करते। उन्‍होंने मंगलवार को भटिंडा सेंट्रल जेल में अपनी पार्टी शिरोमणि अकाली दल (अमृतसर) के दो नेताओं से मुलाकात के बाद मीडिया कर्मियों से बातचीत में यह बयान दिया। उन्‍होंने कहा,’ भाजपा के अनुसार जो भारत मात की जय नहीं कहता वह देशभक्‍त नहीं है। उस पर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जा सकता है। सिखों को वाहेगुरु जी का खालसा, वाहेगुरु जी की फतेह कहना चाहिए।

उन्‍होंने आगे कहा कि भाजपा को यह जान लेना चाहिए कि सिख वंदे मातरम भी नहीं कह सकते। उन्‍होंने कहा,’साथ ही गीता जैसे हिंदू धार्मिक ग्रंथों को भी दूसरे धर्म के लोगों पर थोपा नहीं जाना चाहिए। जैसा कि भाजपा के राज वाले हरियाणा में हुआ है।’ सिमरनजीत सिंह मान पूर्व आईपीएस ऑफिसर हैं। वे अलग सिख राष्‍ट्र खालिस्‍तान के समर्थकों में से एक हैं।

Read Alsoहैदराबाद: मुस्लिम संस्‍था ने जारी किया फतवा, कहा- भारत माता की जय बोलना इस्‍लाम के खिलाफ

बता दें कि पिछले दिनों एआईएमआईएम के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी के भारत माता की जय न बोलने के बयान के बाद यह विवाद हुआ है। इसके बाद महाराष्‍ट्र विधानसभा से एमआईएम के विधायक वारिस पठान को सस्‍पेंड किए जाने के बाद यह मामला और बढ़ गया।

Read Alsoशिवसेना सदस्य ने मुस्लिम विधायकों को कहा कुत्ता, BJP वालों ने लगाए भारत माता की जय के नारे

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Ashish sodha
    Mar 23, 2016 at 12:33 pm
    Jai hind tu bol sakte he sir ji
    (0)(0)
    Reply
    1. D
      Dr B
      Mar 23, 2016 at 8:38 am
      हर युग में सैतान जन्म लेते है वाहे गुरु इनको माप कर देना प्लीज क्योंकि कुछ लोगोंको मातृभूमि का मतलब ही समज़मे नहीं आता
      (0)(0)
      Reply
      1. F
        filu
        Mar 23, 2016 at 10:48 am
        हे भगवन " भारत तेरे tukde न हों इंसा अल्लाह इंसा अल्लाह
        (0)(0)
        Reply
        1. J
          Jashvindra Chauhan
          Mar 23, 2016 at 4:44 am
          बेकार बहस(भारत माता की जय) की शुरुआत कर लोगो को मेन मुद्दे से भटकना है... कंही ये बात एक बड़ा बदलाव को शक्ल न दे दे , जो जनता नहीं चाहती है .....
          (0)(0)
          Reply
          1. पवन कुमार
            Mar 28, 2016 at 4:23 am
            सिमरनजित सिंह जी यानि मैं समझू आप आज भी महिलाओं माताओ को घर के चार दिवारी में कैद , पैर की धूल ही समझते हो क्या ? आपने इतनी उम्र हो जानी है आपको तो पता होना चाहिए की सदियों से माता और महिलाओं को हमारा भारतीय संस्कृति पूजते और सम्मान देते आ रहा है . सिख तो भगत सिंह जी भी थे लेकिन ओ कभी बन्दे मातरम या भारत माता की जय बोलने से नहीं हिचकिचाए तो आप क्यों उनके अरमानो पे पानी फेर रहे हो ......
            (0)(0)
            Reply
            1. पवन कुमार
              Mar 28, 2016 at 4:25 am
              सिमरनजित सिंह जी यानि मैं समझू आप आज भी महिलाओं माताओ को घर के चार दिवारी में कैद , पैर की धूल ही समझते हो क्या ? आपने इतनी उम्र हो जानी है आपको तो पता होना चाहिए की सदियों से माता और महिलाओं को हमारा भारतीय संस्कृति पूजते और सम्मान देते आ रहा है . सिख तो भगत सिंह जी भी थे लेकिन ओ कभी बन्दे मातरम या भारत माता की जय बोलने से नहीं हिचकिचाए तो आप क्यों उनके अरमानो पे पानी फेर रहे हो .....
              (0)(0)
              Reply
              1. S
                shivkumar
                Mar 23, 2016 at 7:13 am
                हमे आर एस एस का नही बल्कि संविधान का अनुसरण करना चाहिये।
                (0)(0)
                Reply
                1. Load More Comments
                सबरंग