ताज़ा खबर
 

एयर इंडिया ने बंद किया मांसाहारी खाना, हर साल बचाएगी इतने करोड़ रुपए

शुक्रवार को सामने आये दस्तावेज के अनुसार, ‘‘एयर इंडिया भारत सरकार की गारंटी के अतिरिक्त अपने विमानों को सिक्योरिटी के तौर पर रखेगी।’’
Author August 8, 2017 18:06 pm
एयर इंडिया का विमान (प्रतीकात्मक तस्वीर)

सरकार ने मंगलवार को कहा कि एयर इंडिया की घरेलू उड़ानों की केवल इकोनोमी श्रेणी में ही मांसाहारी भोजन बंद किया गया है और इससे आठ से 10 करोड़ रूपए तक बचत होने का अनुमान है। नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मांसाहारी भोजन एयर इंडिया की घरेलू उड़ानों की केवल इकोनोमी श्रेणी में ही बंद किया गया है। सिन्हा ने कहा कि इसकी शुरूआत लागत में कमी लाने, खर्च को कम करने, सेवा में सुधार तथा भोजन में किसी प्रकार की गड़बड़ी से बचने के लिए भी की गयी है।

उन्होंने कहा कि लागत कम करने के लिए कई उपाय किए गए हैं और इनसे 20 करोड़ रूपए तक की सालाना बचत होने का अनुमान है। बता दें कि ये खबर तब आई है जब सार्वजनिक विमानन कंपनी छह बोइंग 787-8 विमानों की खरीद के लिए 74 करोड़ डॉलर यानी 4720 करोड़ रुपये का अल्पकालिक ऋृण जुटाने की तैयारी कर रही है।

निविदा के एक दस्तावेज के अनुसार कंपनी ने छह विमानों की खरीद के लिए 74 करोड़ डॉलर का अल्पकालिक ऋृण चाहती है और उसने बैंकों एवं वित्तीय संस्थानों से इस संबंध में पेशकश मंगवाये हैं। जहां सरकार एक तरफ नुकसान में जा रही एयर इंडिया में रणनीतिक विनिवेश को अंतिम रूप देने की तैयारी कर रही है, वहीं कंपनी अंतरराष्ट्रीय उड़ानों की संख्या बढ़ाने के प्रयास में है।

शुक्रवार को सामने आये दस्तावेज के अनुसार, ‘‘एयर इंडिया भारत सरकार की गारंटी के अतिरिक्त अपने विमानों को सिक्योरिटी के तौर पर रखेगी।’’ एयर इंडिया ने विमान निर्माता कंपनी बोइंग के साथ 27 बी787-8 विमानों की खरीद का करार किया हुआ है। एयर इंडिया इनमें से 21 विमानों को वापस बोइंग को ही देने की प्रक्रिया पूरी कर चुकी है।

नवंबर 2016 तथा इस साल के जनवरी और जुलाई महीनों में बोइंग द्वारा एक-एक विमानों की आपूर्ति की जा चुकी है और इनके लिए एयर इंडिया ने सरकार की गारंटी के बगैर ही अल्पकालिक ऋृण जुटा लिया था। बचे हुए तीन विमानों में दो की आपूर्ति इसी महीने तथा एक की आपूर्ति अक्टूबर होने वाली है। दस्तावेज के अनुसार सरकार ने छह विमानों के लिए गारंटी जारी करने के संकेत दिये हैं।

दस्तावेज के अनुसार, ‘‘एयर इंडिया को तीन विमानों के अल्पकालिक ऋृण के भुगतान के लिए अपेक्षाकृत कम दरों पर नये ऋृण तथा तीन अन्य विमानों के लिए अंतरिम अल्पकालिक ऋृण की जरूरत है।’’ एयर इंडिया के बेड़े में अभी 110 विमान हैं जिनमें 33 बोइंग विमान शामिल हैं। कंपनी जल्दी ही स्टॉकहोम तथा कोपेनहेगेन के लिए उड़ानें शुरू करने वाली हैं। उसने पिछले महीने नयी दिल्ली और वांशिगटन के बीच सीधी उड़ान की शुरुआत की थी। घाटे में चल रही विमानन कंपनी को उबारने के लिए मंत्रिमंडल ने सरकार की हिस्सेदारी बेचने की मंजूरी दे चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग