December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

संसद परिसर में मंत्रियों-सांसदों को छोड़ किसी और का इंटरव्यू-फोटोग्राफ नहीं ले सकेंगे पत्रकार

लोकसभा सचिवालय ने संसद का शीत सत्र कवर करने वाले पत्रकारों पर लगाईं कई बंदिशें। बुधवार से शुरु हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र।

संसद परिसर में जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती (एक्सप्रेस फोटो-रेणुका पुरी)

संसद का शीतकालीन सत्र शुरु होने से पहले लोकसभा सचिवालय ने मीडियाकर्मियों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं। इसके मुताबिक मीडिया कर्मियों से कहा गया है कि संसद परिसर में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल या पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी जैसी हस्तियां अगर आपको दिखती हैं तो आप न तो उनसे हाय-हेलो कीजिए और न ही उनसे बातचीत कीजिए या फोटो खींचिए। अगर ऐसा करते पाए गए तो लोकसभा सचिवालय आरोपी मीडिया कर्मी को दो दिनों के लिए संसदीय रिपोर्टिंग करने से सस्पेंड कर सकता है। लोकसभा सचिवालय का प्रेस और पब्लिक रिलेशन्स विंग ने बुधवार को मीडियाकर्मियों को जारी दिशा निर्देश में बड़े पैमाने पर क्या करें और क्या न करें की सूची सौंपी है।

जारी गाइडलाइंस के मुताबिक, “कोई भी मीडिया कर्मी लोकसभा सचिवालय के प्रेस एंड पब्लिक रिलेशन्स विंग से बिना अनुमति लिए मंत्री या संसद सदस्य को छोड़कर किसी अन्य व्यक्ति से न तो इंटरव्यू ले सकता है, नो फोटोग्राफ खींच सकता है और न ही बातचीत कर सकता है।” हालांकि, संसदीय सचिवालय के अधिकारी इसमें कोई नई बात होने से इनकार कर रहे हैं। गाइडलाइंस के मुताबिक पत्रकारों को किसी भी पूर्व सांसद, पूर्व मंत्री, मुख्यमंत्रियों, विधायकों या अन्य प्रमुख हस्तियां जो संसद परिसर में होंगे उनसे बात करने से पहले लोकसभा सचिवालय के पीआर विभाग से अनुमति लेनी होगी।

गाइडलाइंस में यह भी कहा गया है कि मंत्रियों और सांसदों का इंटरव्यू लेने से पहले मीडियाकर्मियों को उनसे पहले से ही मिलने का समय लेना होगा। और इसके लिए मीडिया के तय नियामकों का उन्हें पालन करना होगा। इसके अलावा मंत्रियों सांसदों का इंटरव्यू करने के लिए कहां कैमरा लगाया जाएगा इसके लिए भी लोकसभा सचिवालय ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं।

आपको बता दें कि 16 नवंबर से संसद का शीतकालीन सत्र शुरु होने जा रहा है। इससे एक दिन पहले लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने सर्वदलीय बैठक बुलाई है ताकि संसद का यह सत्र सुचारु रुप से चल सके लेकिन मोदी सरकार के नोट बंदी के फैसले से यह सत्र हंगामेदार रहने की आशंका है।

वीडियो देखिए: नोटबंदी के मुद्दे पर पीएम मोदी ने देर रात बुलाई बैठक; 24 नवंबर तक चलेंगे 500-1000 रुपए के पुराने नोट

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 2:22 pm

सबरंग