ताज़ा खबर
 

उत्तराखंड कांग्रेस के नौ बागी भाजपा में शामिल

पार्टी के दिल्ली स्थित केंद्रीय मुख्यालय में बागियों के नेता विजय बहुगुणा के नेतृत्व में कांग्रेस के नौ बागी पूर्व विधायकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।
Author देहरादून | May 19, 2016 02:03 am
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह (फाइल फोटो)

उत्तराखंड कांग्रेस के बागी नेता बुधवार (18 मई) देर रात भाजपा में शामिल हो गए। पार्टी के दिल्ली स्थित केंद्रीय मुख्यालय में बागियों के नेता विजय बहुगुणा के नेतृत्व में कांग्रेस के नौ बागी पूर्व विधायकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। बागी विधायक रेखा आर्य उज्जैन में होने के कारण बुधवार (18 मई) को भाजपा में शामिल नहीं हो सकीं। लेकिन भाजपा आलाकमान ने उन्हें भाजपा में शामिल करने के लिए सहमति दे दी है। वे उज्जैन कुंभ के बाद भाजपा में शामिल होंगी। भाजपा में शामिल हुए बागी कांग्रेसी नेताओं में विजय बहुगुणा, हरक सिंह रावत, अमृता रावत, कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा काऊ, प्रदीप बत्रा, शैलारानी रावत, शैलेंद्र मोहन सिंघल हैं।

दिल्ली स्थित भाजपा मुख्यालय पहुंचने पर कांग्रेस के इन बागी नेताओं का जोरदार स्वागत किया गया। इस अवसर पर भाजपा के उत्तराखंड प्रभारी श्याम जाजू, उत्तराखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट मौजूद थे। कांग्रेस के ये सभी बागी नेता बिना शर्त भाजपा में शामिल हुए हैं। कांग्रेस के इन नौ बागी पूर्व विधायकों में से आठ ने अपना राजनीतिक जीवन कांग्रेस में रहकर शुरू किया। वे पहली बार भाजपाई बने हैं। जबकि हरक सिंह रावत ने अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत भाजपा और संघ से की थी। हरक सिंह 1993 में उत्तर प्रदेश की कल्याण सिंह सरकार में मंत्री थे। वह 1996 में भाजपा छोड़कर बसपा में शामिल हुए। फिर 2000 में उत्तराखंड राज्य बनने पर कांग्रेस में शामिल हो गए और नारायण दत्त तिवारी, विजय बहुगुणा और हरीश रावत मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री थे। पिछले एक हफ्ते से भाजपा में बागी कांग्रेसी नेताओं को शामिल करने को लेकर घमासान चल रहा था। भाजपा का एक खेमा बागी कांग्रेसी नेताओं को भाजपा में शामिल करने का विरोध कर रहा था। जिस कारण भाजपा आलाकमान को बागी कांग्रेसी नेताओं को पार्टी में शामिल करने में देरी हुई।

उत्तराखंड भाजपा के कोर ग्रुप के नेताओं की बुधवार को भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने बैठक ली। इसमें पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट, पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, भुवन चंद्र खंडूड़ी, रमेश पोखरियाल निशंक, तीरथ सिंह रावत, सांसद अजय टम्टा और पार्टी के केंद्रीय प्रभारी श्याम जाजू मौजूद थे। बैठक में शाह ने बागी कांग्रेसी नेताओं को भाजपा में शामिल करने बाबत इन नेताओं की राय जानी। सूत्रों के मुताबिक भाजपा के एक दिग्गज नेता और पूर्व मुख्यमंत्री ने बागी नेताओं के भाजपा में शामिल होने का विरोध किया जबकि अन्य ने इन्हें भाजपा में शामिल करने पर अपनी सहमति जताई। उत्तराखंड भाजपा के नेताओं के इस फैसले के बाद ही अमित शाह ने बागी कांग्रेसी नेताओं को भाजपा में शामिल करने का मन बनाया। पिछले एक हफ्ते से बागी कांग्रेसी पूर्व विधायकों के नेता विजय बहुगुणा ने भाजपा आलाकमान पर भाजपा में शामिल होने के लिए दबाव बना रखा था। लेकिन उत्तराखंड भाजपा के कुछ नेताओं के विरोध के कारण इनको पार्टी में लेने में देरी हो रही थी।

* अमित शाह ने उत्तराखंड भाजपा के कोर ग्रुप के नेताओं की बैठक ली। एक दिग्गज नेता व पूर्व मुख्यमंत्री ने बागी नेताओं के भाजपा में शामिल होने का विरोध किया जबकि अन्य ने अपनी सहमति जताई

* भाजपा में शामिल हुए बागी कांग्रेसी नेताओं में विजय बहुगुणा, हरक सिंह रावत, अमृता रावत, कुंवर प्रणव सिंह चैंपियन, सुबोध उनियाल, उमेश शर्मा काऊ, प्रदीप बत्रा, शैलारानी रावत, शैलेंद्र मोहन सिंघल हैं

* कांग्रेस के इन बागी पूर्व विधायकों में से आठ ने अपना राजनीतिक जीवन कांग्रेस से शुरू किया और वे पहली बार भाजपाई बने हैं। हरक सिंह रावत ने राजनीतिक जीवन की शुरुआत भाजपा और संघ से की थी

* कांग्रेस के बागी पूर्व विधायकों के नेता विजय बहुगुणा ने पिछले एक हफ्ते से भाजपा आलाकमान पर दबाव बना रखा था। उत्तराखंड भाजपा के कुछ नेताओं के विरोध के कारण इन्हें शामिल करने में देरी हुई है

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.