December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

1984 का दंगा मामला : सीबीआई ने जांच पूरी करने के लिए चार महीने का वक्त मांगा

सीबीआई ने दिल्ली की एक अदालत से कहा कि उसे 1984 के सिख विरोधी दंगों की आगे की जांच पूरी करने के लिए कम से कम और चार महीने की जरूरत है।

Author October 25, 2016 20:36 pm
1984 के सिख विरोधी दंगों में न्याय की आस में विरोध प्रदर्शन कर रही महिलाएं। (फाइल फोटो)

सीबीआई ने मंगलवार (25 अक्टूबर) दिल्ली की एक अदालत से कहा कि उसे 1984 के सिख विरोधी दंगों की आगे की जांच पूरी करने के लिए कम से कम और चार महीने की जरूरत है। इस मामले में कांग्रेस नेता जगदीश टाइटलर को एक क्लीन चिट मिली थी। जांच एजेंसी ने अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट शिवाली शर्मा के समक्ष यह दलील दी जिन्होंने इसे जांच में तेजी लाने और एक आखिरी रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया। मजिस्ट्रेट ने कहा, ‘‘आप (सीबीआई) एक आखिरी रिपोर्ट दाखिल करें। मुझे बताएं कि आपको जांच पूरी करने के लिए और कितना वक्त चाहिए। यह एक अनंत प्रक्रिया है। आप एक आखिरी रिपोर्ट दाखिल करें और मैं इस पर विचार करूंगी। जांच में तेजी लाएं और मुझे भी अवधि बताएं।’’

सीबीआई अधिकारियों ने कहा कि वे कुछ एजेंसियों के जवाब का इंतजार कर रहे हैं जिसमें वक्त लगेगा और जांच पूरी करने के लिए चार महीने का और वक्त मांगा। इसके बाद अदालत ने मामले की सुनवाई 16 फरवरी के लिए तय कर दी। जांच की निगरानी कर रहे सीबीआई के पुलिस अधीक्षक ने अदालत को बताया कि वे जांच पूरी करने के लिए हर कोशिश कर रहे हैं और एक अधिकारी ने हाल ही में नरींदर सिंह से कनाडा में बात की लेकिन उन्होंने जांच में शामिल होने से इनकार कर दिया। वह टाइटलर के खिलाफ एक मुख्य गवाह के बेटे हैं। वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘जहां तक भारत में जांच की बात है यह लगभग पूरी हो चुकी है। हमने कई बार नरींदर से बात करने की कोशिश की। उन्होंने हमारा फोन आखिरी दो बार उठाया लेकिन जांच में शामिल होने और भारत आने से इनकार कर दिया।’’

वीडियो: तीन तलाक के मुद्दे पर गर्माई सियासत; मायावती बोली- “अपने विचार और फैसले किसी पर न थोपें मोदी”

उन्होंने बताया, ‘‘उन्होंने कहा कि वह कनाडाई मूल के एक अमेरिकी हैं और उन देशों का कानून उन पर लागू होता है।’’सीबीआई के अभियोजक एनके श्रीवास्तव ने यह भी कहा कि एजेंसी कुछ नहीं छिपा नहीं रही है और सारे तथ्यों का अदालत में खुलासा किया है। इससे पहले सीबाआई ने दावा किया था कि उन्होंने नरींदर से संपर्क करने के लिए हर संभव कोशिश की लेकिन उनसे संपर्क नहीं किया जा सका क्योंकि फोन करने पर कोई भी व्यक्ति फोन नहीं उठा रहा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 25, 2016 8:36 pm

सबरंग