ताज़ा खबर
 

राजस्थान के गृह मंत्री समेत 15 मंत्रियों को मिला IM का धमकी भरा ई-मेल

राजस्थान पुलिस ने आज बताया कि मंत्रिपरिषद के तकरीबन पंद्रह सदस्यों के सरकारी ई-मेल आईडी पर ‘इंडियन मुजाहिदीन’ के नाम से कथित रूप से धमकी भरे ई-मेल मिले हैं। अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (एटीएस,ओएसजी) आलोक त्रिपाठी के अनुसार राजस्थान के पच्चीस सदस्यीय मंत्रिमंडल में से करीब पंद्रह सदस्यों को धमकी भरे ई-मेल मिलने के बाद प्रदेश […]
Author December 26, 2014 17:01 pm
राजस्थान के गृह मंत्री समेत 15 मंत्रियों को धमकी भरे ई-मेल

राजस्थान पुलिस ने आज बताया कि मंत्रिपरिषद के तकरीबन पंद्रह सदस्यों के सरकारी ई-मेल आईडी पर ‘इंडियन मुजाहिदीन’ के नाम से कथित रूप से धमकी भरे ई-मेल मिले हैं। अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस (एटीएस,ओएसजी) आलोक त्रिपाठी के अनुसार राजस्थान के पच्चीस सदस्यीय मंत्रिमंडल में से करीब पंद्रह सदस्यों को धमकी भरे ई-मेल मिलने के बाद प्रदेश में सुरक्षा के प्रबंध चाक चौबंद कर दिये गये हैं।

त्रिपाठी ने आज कहा कि कहा कि धमकी भरे ई-मेल एक ही ई़मेल से मंत्रिपरिषद के पंद्रह-सोलह सदस्यों के सरकारी ई-मेल पर भेजे गये हैं। उन्होंने बताया कि वाक्यों में काफी गलतियां है और मामले की जांच की जा रही है।

राजस्थान पुलिस के महानिदेशक ओमेन्द्र भारद्धाज ने कहा कि धमकी भरे ई-मेल में लिखा है, ‘आप खुद समझ जाओं, हम क्या करेंगे।’ यह मेल किसने भेजे हैं। इस बारे में फिलहाल कुछ भी कहना जल्दबाजी है। मामले की जांच की जा रही है और इसके बाद ही इस बारे में कुछ बताया जा सकेगा।

उन्होंने कहा कि धमकी भरे ई-मेल की ‘विश्वसनीयता’ की जांच की जा रही है। जांच में हमें कई तरह की जानकारियां मिली हैं। हम भी अन्य जांच एजेंसियों से यह जानकारियां साझा कर रहे हैं। आतंकी धमकियों को देखते हुए प्रदेश में पहले से ही सर्तकता बरती जा रही है। कथित धमकी भरे ई-मेल मिलने के बाद सर्तकता और बढा दी गई है।

पुलिस महानिदेशक के अनुसार मंत्रिपरिषद के सदस्यों को यह कथित धमकी भरे ई-मेल पिछले दिनों उनके सरकारी ई-मेल आईडी पर मिले हैं। भारद्वाज ने कहा कि यह धमकी भरे ई-मेल ‘इंडियन मुजाहिदीन’ द्वारा भेजना बताया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था और कडी कर दी गई है। इधर, राजस्थान के गृहमंत्री गुलाब चंद कटारिया ने कहा कि पुलिस महानिदेशक ओमेन्द्र भारद्धाज मंत्रिपरिषद के सदस्यों को मिले कथित धमकी भरे ई-मेल प्रकरण की जांच कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग