ताज़ा खबर
 

सुबह उठने में करते हैं आलस तो बिस्तर पर ही करें ये आसन, रहेंगे फिट

कुछ योगासन ऐसे हैं जिन्हें बेड पर लेटे हुए किया जा सकता है।
धनुरासन

रोज व्यायाम न कर पाने के कई कारण हो सकते हैं। समय न मिल पाना, इच्छा न होना या फिर किसी शारीरिक समस्या की वजह से लोग नियमित व्यायाम से परहेज करते हैं। इसी तरह से बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जो चाहते हुए भी रोज इसलिए योग और व्यायाम नहीं कर पाते क्योंकि वह सुबह जल्दी बिस्तर नहीं छोड़ना चाहते। यूं तो योग खुली हवा में जाकर किया जाए तो बेहतर रहता है लेकिन फिर भी अगर आप सवेरे-सवेरे बिस्तर नहीं छोड़ना चाहते तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसे योग के बारे में जानकारी लेकर आए हैं जिसे आप अपने बेड पर लेटे हुए ही कर सकते हैं।

कुछ योगासन ऐसे हैं जिन्हें बेड पर लेटे हुए किया जा सकता है। सेतुबंधासन उन्हीं आसनों में से एक है। अगर आपकी कमर में अक्सर दर्द रहता है तो ये आसन आपके लिए ही है। जब आप बेड पर पीठ के बल लेटे हों तो इस आसन को आसानी से कर सकते हैं। लेटे हुए अपने हाथों को शरीर के बगल में इस तरह सटाकर रखें कि हथेली जमीन की तरफ हो और दोनों बाजू सीधी रहें। अब अपने दोनों पैरों के घुटने को इस तरह मोड़े की पैर के तलवे जमीन से लग जाएं। इसके पश्चात सांस ले, कुछ पल के लिए सांस रोकें और धीरे-धीरे कमर को जमीन से ऊपर उठाने की कोशिश करें| आपको कमर को इतना ऊपर उठाना है कि छाती ठुड्डी को छूने लगे। कुछ सेकेंड तक रुकें फिर सामान्य स्थिति में लौट आएं।

धनुरासन दिल के लिए काफी लाभकारी आसन है। इसके अलावा पाचन शक्ति बढ़ाने में और रीढ़ की हड्डी को स्वस्थ रखने में काफी लाभदेह है। बेड पर पेट के बल लेट कर घुटनों को मोड़ें और अपने हाथ से टखनों को पकड़े। अपने सिर, छाती और जांघ को ऊपर की ओर उठाएं। कोशिश करें कि पूरा शरीर पेट पर टिका हो। जब आप पूरी तरह से अपने शरीर को ऊपर उठा लें तो पैरों के बीच की जगह को कम करने की कोशिश करें। कुछ पल रुककर सामान्य स्थिति में लौट आएं। बलासन को भी बिस्तर पर लेटे-लेटे आसानी से किया जा सकता है। मसल्स की मजबूती बढ़ाने और पेट की चर्बी भी घटाने वाले इस आसन को करने के लिए सबसे पहले घुटनों के बल बैठ जाएं और शरीर का सारा भार एड़ियों पर डालें। गहरी सांस लेते हुए आगे की ओर झुकें। आपका सीना जांघों से छूना चाहिए और अपने माथे से फर्श को छूने की कोशिश करें। कुछ सेकंड इस अवस्था में रहें फिर लौट आएं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग