ताज़ा खबर
 

जाड़ों में बढ़ रहा वजन, इन चार तरीकों से आसानी से पाएं काबू

बहुत से लोगों का ऐसा मानना होता है कि ठंड में वजन कम कर पाना मुश्किल होता है लेकिन यह सच नहीं है।
प्रतीकात्मक चित्र

बहुत से लोगों का ऐसा मानना होता है कि ठंड में वजन कम कर पाना मुश्किल होता है लेकिन यह सच नहीं है। कई तरह के अध्ययन बताते हैं कि जाड़े का मौसम शरीर से अतिरिक्त फैट बर्न करने के लिए काफी अनुकूल होता है। ऐसे ही एक अध्ययन में कहा गया है कि सर्दियों में सोने की वजह से शरीर में ब्राउन फैट और मेटाबॉलिज्म बढ़ता है। ब्राउन फैट को गुड फैट भी कहा जाता है जो शरीर से कैलोरी बर्न करने में तो मदद करता ही है साथ ही साथ नुकसानदेह व्हाइट फैट को जड़ से खत्म करने में भी अहम भूमिका निभाता है। लेकिन सर्दियों में वजन घटाने के लिए अन्य मौसम में इस्तेमाल किए जा रहे टिप्स से अलग नुस्खे फॉलो करने पड़ते हैं। इस मौसम में अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं तो इसके लिए आपको एक खास स्ट्रेटेजी के तहत काम करना पड़ेगा। आज हम आपको कुछ ऐसे ही टिप्स के बारे में बताने जा रहे हैं।

हाइड्रेटिंग फूड्स का सेवन करें – सर्दियों में आपको ऐसे फूड्स का सेवन करना चाहिए जिनमें पानी की मात्रा ज्यादा होती है। प्राकृतिक और ताजे फल, सब्जियां और सूप्स ऐसे में बेहतर विकल्प हो सकते हैं। इनमें पानी की काफी मात्रा होती है, जिससे आप हाइड्रेटेड रहते हैं। इसके अलावा ये बिना कैलोरी एड किए वजन कम करने में भी मदद करते हैं।

प्रोटीन का सेवन भी जरूरी – प्रोटीन के सेवन से आपको हमेशा तृप्ति का अनुभव रहता है और बार-बार खाना खाने की इच्छा नहीं होती। साथ ही यह शरीर में फैट-बर्निंग मसल्स को मेंटेन करने में भी मदद करता है। ऐसे में लो-फैट मिल्क, स्किनलेस चिकन ब्रीस्ट्स, फिश, बीन्स और अंडे इत्यादि का सेवन करना फायदेमंद है।

खूब पानी पिएं – सर्दियों में लोग अन्य मौसम के मुकाबले कम पानी पीते हैं। लेकिन अगर आप इस मौसम में अपना वजन कम करना चाहते हैं तो जरूरी है कि खूब पानी पिएं। यह भूख को तो नियंत्रित करता ही है साथ ही साथ आपको हाइड्रेटेड भी रखता है। इससे शरीर से विषाक्त तत्व भी बाहर हो जाते हैं।

धूप में बैठें – धूप में बैठने से शरीर में सोरोटोनिन की मात्रा बढ़ती है। सेरोटोनिन एक मूड-बूस्टिंग ब्रेन केमिकल होता है जो तृप्ति का आभास करवाता है। मतलब कि भूख को नियंत्रित करता है, जिससे वजन कम करने में मदद मिलती है। शरीर में सेरोटोनिन की कमी से डिप्रेशन, अनिद्रा और वजन बढ़ने की समस्या का खतरा बढ़ जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.