December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

जानिए- जींस में क्यों होती है ये छोटी पॉकेट और छोटे बटन?

आप कई सालों से जींस पहन रहे होंगे या दूसरे लोगों को पहनते हुए देख रहे होंगे, लेकिन कभी आपने गौर किया है कि जींस में दाईं तरह एक छोटी सी जेब क्यों होती है।

इस पॉकेट का इतिहास बहुत पुराना है और यह कई सालों से जींस में लगी आ रही है। यह छोटी पॉकेट कॉइन या चाबी रखने के लिए नहीं बल्कि घड़ी रखने के लिए बनाई गई थी और इस वॉच पॉकेट कहते हैं।

आप कई सालों से जींस पहन रहे होंगे या दूसरे लोगों को पहनते हुए देख रहे होंगे, लेकिन कभी आपने गौर किया है कि जींस में दाईं तरह एक छोटी सी जेब क्यों होती है। यह जेब दाईं तरफ वाली जेब के अंदर होती है, जिसे लोग अलग अलग काम में लेते हैं। साथ ही जींस की जेब के कोनों पर छोटे-छोटे बटन भी लगे रहते हैं, जिन्हें हम फैशन के बटन मानते हैं, लेकिन यह बटन फैशन के लिए नहीं होते हैं। आज हम आपको बताएंगे कि जींस में ये छोटी पॉकेट और छोटे बटन क्यों होते हैं।

कई लोग अपनी जींस की छोटी पॉकेट को कॉइन, आईपोड, चाबी, कोई छोटा सामान रखने के काम में लेते हैं, लेकिन इसका सही इस्तेमाल कुछ और ही है। बता दें कि इस पॉकेट का इतिहास बहुत पुराना है और यह कई सालों से जींस में लगी आ रही है। यह छोटी पॉकेट कॉइन या चाबी रखने के लिए नहीं बल्कि घड़ी रखने के लिए बनाई गई थी और इस वॉच पॉकेट कहते हैं। जींस बनाने वाली कंपनी लेवी स्ट्रॉर्स (लिवाइस) के अनुसार यह वॉच पॉकेट होती है और पहली जींस में चार जेब लगाई गई थी, जिसमें एक जेब पीछे थी और दो जेब के साथ यह वॉच पॉकेट थी।

बताया जाता है कि साल 1800 में कॉउबॉयज अपने साथ घड़ी रखते थे जिसे अपने वेसकोर्ट में रखते थे। लेकिन घड़ी की पुख्ता सुरक्षा के लिए लिवाइस ने यह वॉच पॉकेट भी लगाई थी, जिससे कि वो अपनी घड़ी रख सके और वो सुरक्षित रहे। साथ ही जेब के कोने में लगाए गए छोटे बटन भी फैशन के लिए नहीं बल्कि जेब की मजबूती के लिए लगाए जाते थे। पहले जेब फटने का सबसे ज्यादा डर रहता था और इससे बचने के लिए कोने में ये बटन लगाए जाते हैं, जिससे कि पॉकेट जल्दी ना फटे और कोनों से मजबूती बनाए रखें।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 2:07 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग