ताज़ा खबर
 

आंख, दिल ही नहीं आपकी सेक्स लाइफ पर भी असर डाल रही है दिल्ली की ये स्मॉग

दिवाली के बाद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बीते 17 सालों में सबसे खराब हवा की गुणवत्ता है।
प्रतीकात्मक चित्र

इन दिनों राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली प्रदूषण से परेशान है और यह दिल्ली वासियों की सेहत पर बहुत बुरा असर डाल रहा है। पिछले कुछ दिनों से दिल्ली के स्मॉग भरे प्रदूषण से लोगों की आंख, दिल, स्किन पर बहुत बुरा असर पड़ रहा है। दिल्ली के इस वातावरण को लेकर कई रिसर्च सामने आ रहे हैं जिसमें बताया जा रहा है कि किस तरह से ये स्मॉग शरीर को नुकसान पहुंचा रहा है। इस बीच एक्सपर्ट्स का ये भी कहना है कि इससे आंखों और दिल के साथ पुरुषों के स्पर्म पर भी असर पड़ता है। बताया जा रहा है कि इसके कारण पुरूषों का सेक्स ड्राइव कम हो रहा है यानि सेक्स करने की इच्छा कम हो रही है।

विशेषज्ञों के अनुसार, वायु प्रदूषण के प्रतिकूल प्रभावों से यौन क्रियाओं में 30 प्रतिशत कमी आ सकती है। दिवाली के बाद राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में बीते 17 सालों में सबसे खराब हवा की गुणवत्ता है। दिल्ली के इंदिरा आईवीएफ चिकित्सालय में प्रजनन विशेषज्ञ सगारिका अग्रवाल का कहना है कि ‘हवा में बहुत सारे भारी तत्व हैं, जो सीधे तौर पर शरीर के हार्मोन को प्रभावित करते हैं। भारत में 15 प्रतिशत पुरुषों की आबादी नंपुसक है। यह दर महिलाओं की तुलना में ज्यादा है। सगारिका ने ये भी कहा कि पर्टिकुलेट मैटर अपने साथ पॉलीसाइक्लिक एरोमैटिक हाइड्रोकार्बन लिए होते हैं। इसमें सीसा, कैडमियम और पारा होते हैं, जो हार्मोन के संतुलन को प्रभावित करते हैं और शुक्राणुओं के लिए नुकसानदायक होते हैं।

अग्रवाल के अनुसार, टेस्टोस्टोरोन या एस्ट्रोजन स्तर में कमी संसर्ग की इच्छा में कमी ला सकती है। इस तरह यह यौन जीवन में बाधा पैदा कर सकती है। लेकिन प्रजनन में इस बदलाव से बचने के लिए बाहर जाते समय बहुस्तरीय फिल्टर मास्क का प्रयोग करें। विशेषज्ञों का कहना है कि दिल्ली में पर्टिकुलेट मैटर (पीएम2.5) में भारी वृद्धि देखी गई है। यह मनुष्य के बाल की तुलना में 30 गुना महीन होता है। उन्होंने कहा कि दिवाली के बाद नवंबर में 500यूजी/एम3 मापक पैमाने पर एक रिकार्ड के साथ पीएम 2.5 शुरू हुआ और यह बाद के दिनों में 600 और 700 यूजी/एम3 रहा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग