ताज़ा खबर
 

रिटायरमेंट लाती है लाइफ़स्टाइल में पॉजीटिव बदलाव

शोधकर्ता मेलोडी डिंग ने बताया, "सेवानिवृत्ति व्यक्ति के लिए अपने खराब जीवनशैली को सुधारने का यह अच्छा मौका हो सकता है। यह मौका स्वस्थ्य रहने के रूप में भुनाया जा सकता है।"
Author सिडनी | March 20, 2016 15:14 pm
शोध के निष्कर्षो के अनुसार, सेवानिवृत्त होने के बाद व्यक्ति सप्ताह में 93 मिनट की अतिरिक्त शारीरिक गतिविधियां करने लगता है। (फाइल फोटो)

एक उम्र के पड़ाव के बाद काम से सेवानिवृत्ति व्यक्ति के जीवन में सकारात्मक बदलावों की बयार लेकर आती है। एक नए शोध में यह दावा किया गया है। लगातार काम करने वाले व्यक्ति की तुलना में एक सीमा के बाद काम से सेवानिवृत्ति हो जाने वाला व्यक्ति शारीरिक रूप से सक्रिय रहता है और धूम्रपान का सेवन भी कम करता है। ऑस्ट्रेलिया की यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी से इस अध्ययन के मुख्य शोधकर्ता मेलोडी डिंग ने बताया, “सेवानिवृत्ति व्यक्ति के लिए अपने खराब जीवनशैली को सुधारने का यह अच्छा मौका हो सकता है। यह मौका स्वस्थ्य रहने के रूप में भुनाया जा सकता है।”

शोध के निष्कर्षो के अनुसार, सेवानिवृत्त होने के बाद व्यक्ति सप्ताह में 93 मिनट की अतिरिक्त शारीरिक गतिविधियां करने लगता है। वहीं निष्क्रिय समय प्रति दिन के हिसाब से 67 मिनट घट जाता है, और नींद अवधि में 11 मिनट की वृद्धि होती है। डिंग ने कहा, “जीवनशैली में यह परिवर्तन उन लोगों में अधिक महत्वपूर्ण होते हैं, जो पूरा समय काम करने के बाद सेवानिवृत्त होते हैं।” यह शोध ‘प्रेसेंटेटिव मेडिसिन’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.