ताज़ा खबर
 

पहली बार हो रहीं हैं प्रेग्नेंट तो छोड़नी होंगी कई बुरी आदतें, ये तरीके अपनाएंगे तो स्वस्थ रहेगा आपका बच्चा

प्रेग्नेंसी के दौरान अपने साथ-साथ पेट में पल रहे बच्चे के स्वास्थ्य का ख्याल रखना भी बहुत जरूरी है।
Author नई दिल्ली | July 18, 2017 13:19 pm
गर्भावस्था के दौरान आपको शारीरिक आराम की सख्त जरूरत है। इसलिए ध्यान रखें कि ऐसा कोई भी काम जो शारीरिक रुप से जोखिम भरा हो, आप उससे दूर रहें।

पहली बार गर्भधारण की अवस्था में आपके मन में अपने स्वास्थ्य को लेकर कई तरह की शंकाएं और कई तरह के सवाल आते होंगे। ऐसी अवस्था में आपके आस-पास के लोग आपको तमाम तरह की सलाह और अनेक जानकारियां जरूर उपलब्ध करवाते होंगे, जिससे कभी-कभी भ्रम की स्थिति भी पैदा हो जाती होगी। ऐसे में आपको स्त्री रोग विशेषज्ञ से अपने स्वास्थ्य को लेकर सलाह जरूर लेना चाहिए ताकि शंकाओं के बादल छंट सकें। पहली बार गर्भधारण से पहले आपको एनीमिया, थैलीसीमिया, ब्लड शुगर जैसे जरूरी जांच जरूर करवा लेना चाहिए। इसके अलावा आपको अपने खान-पान पर भी विशेष ध्यान देना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान आपके डाइट प्लान के बारे में विशेषज्ञ से सलाह लेना इसलिए भी जरूरी हो जाता है क्योंकि ऐसी स्थिति में आपका बॉडी मास इंडेक्स यह निर्धारित करता है कि आपको कौन सा आहार कितनी मात्रा में लेना है। संतुलित आहार मां और बच्चे दोनों के अच्छे स्वास्थ्य के लिए जरूरी है। प्रेग्नेंसी के दिनों में आपको एक दिन में कम से कम 300 कैलोरी से ज्यादा आहार लेना चाहिए। अनाज, सब्जियां, फल, बिना चर्बी का मीट, कम वसायुक्त दूध इन दिनों का प्रमुख आहार है। पहली प्रेग्नेंसी में औरतों को ज्यादा मात्रा में फोलिक एसिड, आयरन, कैल्सियम, विटामिन ए एवं बी-12 लेना चाहिए।

गर्भावस्था के दौरान आपको शारीरिक आराम की सख्त जरूरत होती है। इसलिए ध्यान रखें कि ऐसा कोई भी काम जो शारीरिक रूप से जोखिम भरा हो, आप उससे दूर रहें। हालांकि भारी कामों को छोड़कर छोटे-मोटे साधारण कामों को करने की कोई मनाही नहीं है। इसके अलावा शारीरिक व्यायाम इन दिनों न ही करें तो बेहतर है। डाक्टर्स कहते हैं कि गर्भधारण के दौरान धूम्रपान करना या शराब पीना होने वाले बच्चे के स्वास्थ्य के लिए सही नहीं है। इसकी वजह से गर्भपात की भी संभावना बढ़ जाती है। पहली बार गर्भवती होने वाली महिला को ब्लड टेस्ट अवश्य करा लेना चाहिए, इससे गर्भ में पल रहे बच्चे को संभावित बीमारियों से बचाया जा सकता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on July 18, 2017 1:19 pm

  1. No Comments.
सबरंग