ताज़ा खबर
 

कच्चा लहसुन खाते हैं तो हो जाएं सावधान, आपको झेलनी पड़ सकती हैं ये परेशानियां

कच्चे लहसुन की ज्यादा मात्रा आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीकात्मक तौर पर। (Source: Agency)

लहसुन में कई गुणों का भंडार होता है और ये कई तरह से फायदेमंद भी है लेकिन इसे कच्चा खाना आपको नुकसान भी पहुंचा सकता है। कच्चे लहसुन की ज्यादा मात्रा आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए हानिकारक साबित हो सकती है। आइए जानते हैं कच्चा लहसुन ज्यादा खाने से आपको किन परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

हानिकारक प्रभाव- कच्चा लहसुन खाने से आपको कई तरह के नुकसान हो सकता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो कच्चा लहसुन सांस में बदबू, मुंह, पेट और सीने में जलन, गैस का करण बन सकता है। इसके अलावा मतली, उल्टी, शरीर में गंध और दस्त जैसी परेशानियों की वजह भी कच्चा लहसुन खाना हो सकता है। इसके अलावा लहसुन से रक्तस्राव का खतरा भी बढ़ जाता है। साथ ही सर्जरी के बाद कच्चे लहसुन का सेवन करना खतरनाक साबित हो सकता है। इसकी वजह से एलर्जी प्रतिक्रियाओं और ब्‍लीडिंग की शिकायत भी हो सकती है।

स्किन को नुकसान- कई लोग लहसुन का पेस्‍ट बनाकर स्किन ट्रीटमेंट करना एक बेहतर विकल्प मानते हैं लेकिन यह आपकी स्किन को काफी नुकसान पहुंचा सकता है। त्‍वचा पर लहसुन का इस्‍तेमाल बहुत असुरक्षित होता है। लहसुन का पेस्ट तैयार कर उसे स्किन पर लगाने से स्किन जल भी सकती है। लहसुन का इस्तेमाल भोजन को स्‍वादिष्‍ट बनाने में करना ज्यादा बेहतर होता है। वहीं बीते कुछ सालों में लहसुन का इस्तेमाल बीमारियों को रोकने के लिए भी किया गया है। लहसुन की ताजा कली या इसकी कली से बने सप्‍लीमेंट का उपयोग दवा के लिए किया जाता है। लेकिन लहसुन की अधिक मात्रा स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान पहुंचा सकती है।

वहीं लहसुन का सेवन ज्यादा करने से खून का बहाव ज्‍यादा हो जाता है। इसी वजह से कुछ सर्जरियों को करने के लिए दो हफ्ते से ज्यादा समय तक का इंतजार करना पड़ता है। मरीज को दो हफ्ते तक लहसुन का सेवन करने की इजाजत नहीं होती। इसके अलावा कुछ शोधों में यह बात सामने आई हैं कि थायराइड और थायराइड हार्मोन (हाइपोथायरायडिज्म) के निम्न स्तर में कम आयोडीन का अवशोषण लहसुन की पूरकता के साथ होता है।

देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.