ताज़ा खबर
 

Happy Raksha Bandhan: इन फेसबुक और व्हॉट्सएप Messages और SMS के जरिए ऐसे करें सेलिब्रेट

Happy Raksha Bandhan 2017 Wishes Messages: भाई-बहन के प्यार के प्रतीक इस त्योहार को भारत में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। भारत को त्योहारों और उत्सवों की धरती कहा जाता है।
Happy Raksha Bandhan 2017: रक्षाबंधन का त्योहार इस बार 7 अगस्त यानी सोमवार को मनाया जाएगा।(फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

रक्षाबंधन का त्योहार इस बार 7 अगस्त यानी सोमवार को मनाया जाएगा। भाई-बहन के प्यार के प्रतीक इस त्योहार को भारत में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है। भारत को त्योहारों और उत्सवों की धरती कहा जाता है। क्योकिं यहां हर त्योहार को बड़ी गर्मजोशी से मनाया जाता है।

रक्षाबंधन से पहले बहनें जहां कपड़ों, गहनों और राखी की खरीदारी में जुट जाती हैं। वहीं भाई पहले से ही इस बात के बारे में सोचने लगते हैं कि भला इस बार क्या गिफ्ट दिया जाए ताकि बहन खुश हो जाए। बहनें अपने भाइयों के लिए पसंदीदा राखियां खरीदने के लिए काफी पहले से तैयारी करती हैं।

इन सबके अलावा जैसे-जैसे समय बदल रहा है वैसे-वैसे त्योहार मनाने के कुछ तरीके भी अपडेट हो रहे हैं। जी हां, ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इंटरनेट के इस जमाने में, ऑनलाइन स्टोर से सीधे राखी और गिफ्ट भेजने का चलन भी तेजी से बढ़ रहा है।

कई बहनें रक्षा बंधन का ये त्योहार अपने से दूर रह रहे भाईयों के साथ मनाने के लिए इंटरनेट का भी सहारा ले सकती हैं। बहनें, भाइयों को इंटरनेट की सोशल नेटवर्किंग साइट्स यानी फेसबुक, व्हॉट्सएप, मेल और कई सोशल वेब साइट से इस त्योहार को अपने भाई के साथ मना सकती हैं। फेसबुक और व्हॉट्सएप पोस्ट के जरिए राखी भेज सकती हैं। आइए हम बताते हैं आखिर फेसुबक और व्हॉट्सएप पर किस तरह की मेसेज, पोस्ट, और इमेज के जरिए रक्षाबंधन को सेलिब्रेट किया जा सकता है, कुछ उदाहरण इस प्रकार है-

– प्रीत के धागों के बंधन में,
स्नेह का उमड़ रहा संसार.
सारे जग में सबसे सच्चा,
होता भाई बहन का प्यार.

rakshabandhan facebook (फोटो सोर्स- फेसबुक)

-रुपया पैसा कुछ ना चाहूं,
बोले मेरी राखी है।
आशीर्वाद मिले भैया का,
बस इतना ही काफी है।

– कोई बहन भाई के संग
राखी के रंग में मनंग
कोई लिखकर पंक्ति चार
रोली टीके संग प्यार
भेजे सात समंदर पार
आया राखी का त्यौहार

rashabnadhan facebook image (फोटो सोर्स- फेसबुक)

-निहारे घड़ी बंधी कलाई,
स्नेह से मुस्कुराये भाई,
देख कर भड़क जायेगी,
दीदी घड़ी खुलवायेगी,
डाँट में भी होगी मनुहार,
आया राखी का त्यौहार।

– दूकान भीड़ से अटी पड़ी
बहन सोचती खड़ी खड़ी
कैसे राखी लें इस बार
आया राखी का त्यौहार.

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.