December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

गोवर्धन बनाने से पहले पढ़ लें कैसे कर सकते हैं इसकी सजावट, देखें तस्वीरें

Govardhan Puja Images: गोवर्धन बनाने की तैयारी कर रहे हैं तो देखे लें कैसे और किस तरह आप अपने गोवर्धन को सजा कर सुंदर बना सकते हैं। इसका लुक बदलने के लिए देखें ये तस्वरें।

31 अक्टूबर यानि आज गोवर्धन पूजा है। ये पूजा हर साल दीवाली के अगले दिन मनाई जाती है। इस त्योहार में बलि पूजा, अन्न कूट, मार्गपाली जैसे उत्सव पूरे किए जाते हैं। भगवान कृष्ण के द्वापर युग में अवतार के बाद अन्नकूट (गोवर्धन) पर्वत पूजा की शुरुआत हुई थी। इसे लोग अन्नकूट के नाम से भी जानते हैं। गोवर्धन पूजा में गोधन यानि गायों की पूजा की जाती है। हमारे शास्त्रों में गाय को देवी लक्ष्मी का स्वरूप कहा गया है। जिस तरह देवी लक्ष्मी सुख समृद्धि प्रदान करती हैं ठीक उसी तरह गौ माता भी अपने दूध से हमें स्वास्थ्य रूपी धन प्रदान करती हैं।

द्वापर युग से चली आ रही गोवर्धन पूजा की परंपरा आज भी चली आ रही है। इससे पहले ब्रज में इंद्र की पूजा की जाती थी, लेकिन भगवान कृष्ण ने ब्रजवासियों को तर्क दिया कि इंद्र से हमें कोई लाभ नहीं मिलता है। बारिश करना उनका काम है और वह केवल अपना काम करते हैं, जबकि गोवर्धन पर्वत गौ-धन का संवर्धन एवं संरक्षण करता है। जिसकी वजह से पर्यावरण भी शुद्ध होता है। इसलिए इंद्र की नहीं बल्कि गोवर्धन पर्वत की पूजा की जानी चाहिए। इसके बाद इंद्र ने ब्रजवासियों को बहुत तेज बारिश से डराने की कोशिश की, लेकिन भगवान श्रीकृष्ण ने गोवर्धन पर्वत को अपनी अंगुली पर उठाकर सभी गोकुलवासियों को उनके गुस्से से बचा लिया। इसके बाद से ही इंद्र भगवान की जगह गोवर्धन पर्वत की पूजा करने की परंपरा शुरू हो गई। यह परंपरा आज भी बदस्तूर जारी है। माना जाता है कि भगवान कृष्ण ने इंद्र का घमंड इसलिए तोड़ा था ताकि ब्रजवासी गौ-धन और पर्यावरण के महत्व को समझें और उनकी रक्षा करें। इसलिए इस दिन गाय के गोबर से गोवर्धन बनाया जाता है। इस दिनआंगन को साफ किया जाता है और गोवर्धन बनाने की तैयारी की जाती है। इसके बाद इसकी पूजा होती है।

वीडियो:जनसत्ता की पूरी टीम की तरफ से आप सबको दिवाली और धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएं

अगर आप भी गोवर्धन बनाने की तैयारी कर रहे हैं तो यहां हैं कुछ खास तस्वीरें जिन्हें देखकर आप अपने गोवर्धन को सजा सकते हैं और सुंदर बना सकते हैं।

1-आप गोवर्धन पर इस तरह आंखें लगाकर मुकुट पहनाकर और गोटे और लेस से श्रृंगार कर सकते हैं। इसे सजाने के लिए आप इसके सूखने का इंतजार करें। सूखने पर आप अपनी इच्छा अनुसार सजावट कर सकती हैं।

govardhan

 

2-फूलों की सजावट भी गोवर्धन को एक ट्रेंडी लुक दे सकती है। जिस तरह आप अपने स्टाइल में बदलाव लाते हैं। उसी तरह थोड़ा समय देकर आप दोवर्धन को भी खूबसूरती से सजा सकते हैं।

govardhan-puja_s

 

3-एक छोटा सा मुकुट और मोरपंख लगाकर आप गोवर्धन को एक सिंपल लुक दे सकती हैं।

kks-giriraj

 

4-सफेद या पीले रंग से बिंदियां बनाकर आप श्रीकृष्ण की तरह गोवर्धन को भी सजा सकती हैं।

madhavaddec2013-1

 

5-गोवर्धन को सजाने का काम इसके सूखने के बाद शुरूं करें, गीले रहने पर आपकों इसे सजाने में परेशानी हो सकती है। लेकिन सूखने पर आप मनचाहे ढंग से सजावट कर सकेंगे।

dsc03804

 

Read Also:गोवर्धन पूजा विधि 2016: घर में धन धान्य बनाए रखने के लिए इस शुभ मूहुर्त पर करें पूजा, पढ़ें क्या है सही विधि

Read Also:गोवर्धन 2016: दीवाली के अगले दिन मनाया जाता है गोवर्धन, पढ़ें क्या है इसका महत्व

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 31, 2016 9:47 am

सबरंग