December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

कोहरे के दौरान ड्राइविंग करते समय रखें इन 7 बातों का ध्यान

कोहरे के कारण वाहन चालकों को थोड़ी दूर तक भी देख पाना मुश्किल होता है, जिस कारण कई बार दुर्घटना हो जाती है।

सांकेतिक तस्वीर।

बुधवार को दिल्ली-एनसीआर समेत उत्तरी भारत के कई इलाकों में इस सीजन का पहला कोहरा देखने को मिला। कोहरे में वाहन चलाना काफी मुश्किल भरा काम होता है। कोहरे के कारण वाहन चालकों को थोड़ी दूर तक भी देख पाना मुश्किल होता है, जिस कारण कई बार दुर्घटना हो जाती है। इसलिए सबसे बेहतर है कि कोहरे के समय ड्राइविंग करने से बचें। इसके लिए मौसम विभाग द्वारा दी जाने वाली जानकारी पर नजर रखें। लेकिन अगर यह संभव नहीं हैं और आपको कोहरे में भी कार ड्राइव करनी ही पड़ेगी तो नीचे बताए गए उपायों को अपनाएं।

1. स्पीड: स्पीड का खासा ध्यान रखें। नॉर्मल दिनों से कम ही स्पीड रखें और लेन बदलते व ट्रॉफिक क्रॉस करते समय खासा ध्यान रखें।

2. हेडलाइट: लो-बीम हेडलाइट का इस्तेमाल करें। हाई-बीम हेडलाइट का कोहरे में कम पता चलता है। टेल लाइट और ब्लिंकर्स को भी ऑन रखें, ताकि दूसरे वाहन चालकों को आपकी कार दिख सके।

3. फॉग लाइट: कार में फॉग लाइट का होना बेहद जरूरी है। अधिकतर मिड और लो सेगमेंट की कारों में फॉग लाइट नहीं होती। अगर आपकी कार में भी नहीं है तो यह तरीका अपनाएं। पीला सिलोफ़न पेपर कार की हेडलाइट पर चिपका दें और ड्राइव करते समय हाई-बीम लाइट को जलाकर रखें।

4. मोबाइल या रेडियो: ड्राइव करते समय जरूरी है कि आपका पूरा ध्यान सड़क पर हो। ऐसे में जरूरी है कि आप मोबाइल फोन या रेडियो का इस्तेमाल ना करें। बाहर की आवाज का ध्यान रखने के लिए थोड़ा शीशा भी नीचे रखें।

5. ओवरटेक: कोहरे के वक्त सड़के अक्सर गीली हो जाती है ऐसे में अचानक ब्रेक लगाते वक्त गाड़ी के स्लिप होने का खतरा हो जाता है। दूसरी गाड़ियों को ओवरटेक करने की कोशिश न करें।

6. हीटर: कई बार बाहर का कोहरा कार के अंदर भी आने लगता है, इसलिए कार में हीटर चलाकर रखें।

7. टूथपेस्ट से साफ करें हेडलाइट: चेक करें की कार की विंडस्क्रीन और विंडो एक दम साफ हों। साथ ही इंडिकेटर भी ठीक से काम कर रहे हों। कई बार कार की हेडलाइट गंदी हो जाती हैं। इसके लिए टूथपेस्ट और गर्म पानी से हेडलाइट को साफ करें।

दिल्ली-एनसीआर में घने कोहरे की दस्तक; तापमान में गिरावट, उड़ानों में देरी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 30, 2016 2:53 pm

सबरंग