ताज़ा खबर
 

जब शिक्षक दिवस पर भावुक हो गए विराट के गुरु…

एक बेहद प्रतिभाशाली युवा से विश्व स्तरीय बल्लेबाज तक विराट कोहली की तरक्की में उनके गुरु राजकुमार शर्मा का योगदान किसी से छिपा नहीं है।
Author नई दिल्ली | October 19, 2016 04:09 am

एक बेहद प्रतिभाशाली युवा से विश्व स्तरीय बल्लेबाज तक विराट कोहली की तरक्की में उनके गुरु राजकुमार शर्मा का योगदान किसी से छिपा नहीं है। 2014 में शिक्षक दिवस पर इस शिष्य ने अपने सख्त कोच को इतना भावुक कर दिया कि उस लम्हें को वह कभी नहीं भुला सकेंगे। अनुभवी खेल पत्रकार विजय लोकपल्ली की किताब ‘ड्रिवन ’ में इस घटना का जिक्र किया गया है। इस किताब में लेखक ने एक घटना का जिक्र करते हुए लिखा है कि मैंने (राजकुमार) एक दिन घंटी बजने पर दरवाजा खोला तो सामने विकास (कोहली का भाई) खड़ा था। इतनी सुबह उनके भाई के आने से मुझे चिंता होने लगी। विकास घर के भीतर आया और एक नंबर लगाया और फिर फोन मुझे दे दी। दूसरी ओर विराट फोन पर था जिसने कहा, हैप्पी टीचर्स डे सर। इसके बाद विकास ने राजकुमार की हथेली पर चाबियों का एक गुच्छा रखा। इसमें कहा गया है कि राजकुमार हतप्रभ देखते रहे। विकास ने उन्हें घर से बाहर आने को कहा। दरवाजे पर एक एस्कोडा रैपिड रखी थी जो विराट ने अपने गुरु को उपहार में दी थी।

राजकुमार ने इस घटना के बारे में कहा कि बात सिर्फ यह नहीं थी कि विराट ने मुझे तोहफे में कार दी थी बल्कि पूरी प्रक्रिया में उसके जज्बात जुड़े थे और मुझे लगा कि हमारा रिश्ता कितना गहरा है और उसके जीवन में गुरु की भूमिका कितनी अहम है। इस किताब में विराट के जीवन से जुड़ी मजेदार घटनाओं का भी जिक्र है। युवराज सिंह ने अपनी किताब ‘टेस्ट आफ माय लाइफ’ में लिखा था कि उन्हें लगता था कि विराट कोहली को ‘चीकू’ निकनेम मशहूर कॉमिक किताब ‘चंपक’ से मिला जिसमें इस नाम का एक चरित्र है। भारतीय टैस्ट कप्तान ने हालांकि इसका खुलासा किया कि उन्हें यह निकनेम फल से मिला है। लेखक ने लिखा कि दिल्ली की टीम मुंबई में रणजी मैच खेल रही थी। विराट ने उस समय तक कुल 10 प्रथम श्रेणी मैच भी नहीं खेले थे। वह उस टीम में थे जिसमें वीरेंद्र सहवाग, गौतम गंभीर, रजत भाटिया और मिथुन मन्हास शामिल थे। उनके साथ ड्रेसिंग रूम में रहकर वह काफी खुश थे। उन्होंने लिखा कि एक शाम को वह बाल कटाकर होटल लौटा। उसने पास ही में नया हेयर सैलून देखा और वहां से बाल कटाकर नए लुक में आया। उसने पूछा कि यह कैसा लग रहा है तो सहायक कोच अजित चौधरी ने कहा कि तुम चीकू लग रहे हो। तभी से उनका नाम चीकू पड़ गया और उन्हें बुरा भी नहीं लगता। चौधरी ने कहा कि वह उस समय घरेलू क्रिकेट सर्किट में पैर जमाने की कोशिश में था। उसे तवज्जो मिलना अच्छा लगता था। मैंने इतना प्रतिस्पर्धी युवा नहीं देखा था। वह रन और तवज्जो का भूखा था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
Pro Kabaddi League 2017 - Points Table
No.
Team
P
W
L
D
Pts

Pro Kabaddi League 2017 - Schedule
Aug 23, 201721:00 IST
Babu Banarasi Das Indoor Stadium, Lucknow
<!-- Match 43 -->
33
Zone B - Match 43
FT
33
Match Tied
Aug 24, 201720:00 IST
Babu Banarasi Das Indoor Stadium, Lucknow
<!-- Match 44 -->
VS
Zone B - Match 44
Aug 25, 201720:00 IST
DOME@NSCI SVP Stadium, Mumbai
<!-- Match 45 -->
VS
Zone A - Match 45

सबरंग