December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

अजिंक्य रहाणे के समर्थन में बोले सौरव गांगुली-वनडे टीम से रहाणे को बाहर करना होगी भारी भूल

सौरव गांगुली ने कहा है कि रहाणे बाउंड्री जमाने वाले बल्लेबाज नहीं है। उन्हें कुछ समय की जरुरत होती है और फिर वह गैप में शॉट जमाते हैं। वन-डे टीम से उन्हें बाहर रखना टीम की बड़ी गलती होगी।

सौरव गांगुली ने कहा है कि अजिंक्य रहाणे को वनडे टीम से ड्रॉप करना सेलेक्शन कमिटी की भारी भूल होगी।

भारत के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली ने कहा है कि अजिंक्य रहाणे को वनडे टीम से बाहर करने का यह सही समय नहीं है और यदि उनको इस समय वनडे टीम से बाहर किया जाता है तो यह भारतीय टीम के लिए बहुत बड़ी भूल साबित होगी। 28 वर्षीय रहाणे मौजूदा समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ टेस्ट बल्लेबाज हैं और इस कैलेंडर ईयर में टेस्ट मैचों में उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। लेकिन, सीमित ओवरों में अजिंक्य रहाणे के प्रदर्शन में निरंतरता की कमी रही है। वह वनडे मैचों में शुरूआत तो अच्छी कर रहे हैं मगर अपनी पारी को दूर तक नहीं ले जा पा रहे हैं। बड़े स्कोर नहीं कर पा रहे हैं।

इस वजह से वह इस प्रारूप में उनके प्रदर्शन पर सवाल खड़े हो रहे हैं और टीम उनकी जगह को लेकर संशय बना हुआ है। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली का मानना है कि रहाणे को समझाने की जरुरत है कि टीम में उनकी भूमिका क्या है। गांगुली ने साथ ही कहा कि वन-डे टीम में उनका चयन नहीं करने में चयनकर्ताओं को बड़ी मुश्किल होगी। गांगुली ने इंडिया टुडे से बातचीत में कहा, ‘रहाणे बाउंड्री जमाने वाले बल्लेबाज नहीं है। उन्हें कुछ समय की जरुरत होती है और फिर वह गैप में शॉट जमाते हैं। वन-डे टीम से उन्हें बाहर रखना टीम की बड़ी गलती होगी।

वीडियो: जनसत्ता की पूरी टीम की तरफ से आप सबको दिवाली और धनतेरस की हार्दिक शुभकामनाएं

उन्होंने आगे कहा, ‘मेरे ख्याल से रहाणे की जगह खतरे में नहीं है। वह थोड़े राहुल द्रविड़ जैसे हैं। जब द्रविड़ क्रीज पर आते थे तो रन-रेट के लिए थोड़ा संघर्ष करते थे। उन्हें एक जिम्मेदारी मिली और टीम प्रबंधन को रहाणे के साथ ऐसा करने की जरुरत है।’ रहाणे के पक्ष में एक और बात यह रही कि दिल्ली में पिछले सप्ताह दूसरे वन-डे से पहले प्रमुख कोच अनिल कुंबले ने सभी संदेहों को दरकिनार करते हुए कहा कि रहाणे पूरी सीरीज में ओपनिंग करेंगे।

Read Also: IND vs NZ: हार के बाद बोले धोनी, विकेट बचे होते तो लक्ष्य हासिल कर लेते

कुंबले ने कहा था, ‘इस समय रहाणे शीर्षक्रम पर फिट बैठते हैं और इस पर हमारा पूरा ध्यान है। शिखर धवन और के.एल राहुल के फिट होने के बाद हमारे पास विकल्प बढ़ जाएंगे। मगर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद हम इस पर ध्यान देंगे। न्यूजीलैंड के खिलाफ वन-डे सीरीज में रहाणे ओपनिंग करेंगे और चैंपियंस ट्रॉफी को ध्यान में रखते हुए हम ओपनिंग को लेकर संयोजन के बारे में विचार बनाएंगे।’ कुंबले के इस फैसले पर खरा उतरते हुए रहाणे ने न्यूजीलैंड के खिलाफ चौथे एकदिवसीय मुकाबले में 57 रनों की अर्धशतकीय पारी खेली है।

Read Also: IND vs NZ: माही ने दिखाया जादू, विकेट्स की तरफ देखा तक नहीं और रॉस टेलर को कर दिया रन-आउट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 27, 2016 2:55 pm

सबरंग