ताज़ा खबर
 

RIO OLYMPIC: शूटर विजय कुमार को शूटिंग टीम से चार पदकों की उम्मीद

रियो में भारत के 12 निशानेबाज भाग ले रहे हैं जो लंदन से एक अधिक है। विजय ने कहा कि इससे साबित होता है कि वे लंदन से बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।
Author कोलकाता | July 27, 2016 18:19 pm
ओलंपिक रजत पदक विजेता निशानेबाज विजय कुमार। (file photo)

ओलंपिक रजत पदक विजेता निशानेबाज विजय कुमार भले ही रियो जाने वाली टीम में जगह नहीं बना पाये लेकिन वह अपने साथियों का खुलकर समर्थन कर रहे हैं और उन्हें उम्मीद है कि इस बार निशानेबाज कम से कम चार पदक जीतने में सफल रहेंगे।  विजय ने इंदौर के करीब स्थित मउच्च् से पीटीआई से कहा, ‘‘रियो के लिये हमारे पास बेहतरीन टीम है। हर कोई एक दूसरे से बेहतर है। मुझे पूरा विश्वास है कि निशानेबाजी में हमें कम से कम चार पदक मिलेंगे। ’’

यह पिस्टल निशानेबाज मई में दिल्ली में एशियाई ओलंपिक निशानेबाजी क्वालीफायर्स में रियो का टिकट हासिल नहीं कर पाने के कारण निराश था लेकिन लेकिन वह जल्द ही इससे उबर गये।  विजय ने कहा, ‘‘जो गुजर गया उसे वापस नहीं लाया जा सकता है इसलिए बीते समय के बारे में सोचने के बजाय आगे के बारे में विचार करना बेहतर है। अभी मैं निशानेबाजी प्रतियोगिता का बेसब्री से इंतजार कर रहा हूं। मैं भारतीयों की हौसलाअफजाई करूंगा। ’’ उन्होंने कहा, ‘‘टीम के सभी सदस्य अनुभवी हैं और आत्मविश्वास से भरे हैं इसलिए इस बार कोई रूकावट नहीं होनी चाहिए। मैं रियो में हमेशा अपने देश का ध्वज लहराते हुए देखना चाहता हूं।’’

रियो में भारत के 12 निशानेबाज भाग ले रहे हैं जो लंदन से एक अधिक है। विजय ने कहा कि इससे साबित होता है कि वे लंदन से बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।  उन्होंने कहा, ‘‘हम शोर शराबे में नहीं रहते। हम चुपचाप अपना काम करना पसंद करते हैं। हम चर्चा में रहने या ऐसी चीजों की परवाह नहीं करते। हमारा काम अपने लक्ष्य पर ध्यान केंद्रित रखना होता है। और ओलंपिक सभी प्रतियोगिताओं की जननी है। यह चार साल में एक बार होता है। किसी को भी इसमें जीत के लिये बहुत अधिक समर्पण और कड़ी मेहनत की जरूरत होती है। यह सही समय पर फार्म हासिल करने से जुड़ा होता है। ’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.