December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

पूर्व विश्व चैम्पियन फ्रांसिस चेका से भिड़ेंगे विजेंदर, दांव पर होगा एशिया पैसीफिक खिताब

तंजानिया के 34 साल के अनुभवी मुक्केबाज चेका को 43 मुकाबलों का अनुभव है जिसमें उन्होंने 17 नॉकआउट सहित 32 जीत दर्ज की हैं।

Author नई दिल्ली | November 14, 2016 17:54 pm
भारतीय मुक्केबाज विजेंदर सिंह। (पीटीआई फाइल फोटो)

भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह अपने पेशेवर करियर के सबसे कड़े प्रतिद्वंद्वी से भिड़ेंगे जब डब्ल्यूबीओ सुपर मिडिलवेट एशिया पैसीफिक खिताब बचाने के लिए उनका सामना पूर्व विश्व और मौजूदा अंतरमहाद्वीप चैम्पियन फ्रांसिस चेका से 17 दिसंबर को होगा। तंजानिया के 34 साल के अनुभवी मुक्केबाज चेका को 43 मुकाबलों का अनुभव है जिसमें उन्होंने 17 नॉकआउट सहित 32 जीत दर्ज की हैं। वह सुपर मिडलवेट के दिग्गज मुक्केबाजों से भिड़ चुके हैं जिसमें डब्ल्यूबीए विश्व चैम्पियन रूस के फेदोर चुडिनोव और डब्ल्यूबीसी अंतरराष्ट्रीय चैम्पियन ब्रिटेन के मैथ्यू मेकलिन शामिल हैं। चेका ने 16 साल के अपने करियर के दौरान 300 राउंड के मुकाबले लड़े हैं जबकि विजेंदर को सिर्फ 27 राउंड के मुकाबले खेलने का अनुभव है।

चेका डब्ल्यूबीएफ विश्व चैम्पियन रह चुके हैं और फिलहाल अंतरमहाद्वीप सुपर मिडलवेट चैम्पियन हैं जो खिताब उन्होंने इस साल फरवरी में सर्बिया के गीयर्ड अजेतोविच के खिलाफ जीता था। दूसरी तरफ विजेंदर अपने करियर में अब तक सात मुकाबलों में अजेय रहे हैं। चेका विजेंदर के अब तक के सबसे अनुभवी प्रतिद्वंद्वी हैं और भारतीय मुक्केबाज को कड़ी चुनौती देंगे। विजेंदर ने अब तक अपने सातों मुकाबले जीते हैं जिसमें छह नॉकआउट शामिल हैं। विजेंदर ने अपना पहला खिताब इस साल जुलाई में त्यागराज स्टेडियम में ऑस्ट्रेलिया के कैरी होप को हराकर जीता था।

चेका के साथ मुकाबले के संदर्भ में विजेंदर ने कहा, ‘चेका काफी अनुभवी मुक्केबाज हैं, उसने काफी मुकाबले लड़े हैं लेकिन इससे मैं हतोत्साहित नहीं हूं। उसके स्तर की बराबरी करने के लिए मैं कड़ी ट्रेनिंग कर रहा हूं और एक और जीत की उम्मीद कर रहा हूं।’ उन्होंने कहा, ‘एक बार फिर मेरा मुकाबला स्वदेश में होगा। पिछली बार दर्शकों से मुझे शानदार समर्थन मिला था और मुझे यकीन है कि अधिक लोग मेरा समर्थन करने आएंगे। मुझे जीत का भरोसा है।’ चेका ने अधिक आक्रामक रुख अपनाया और कहा कि वह विजेंदर को नॉकआउट कर देंगे।

उन्होंने कहा, ‘मैं इस लड़के (विजेंदर) को मुक्केबाजी का सबक सिखाने को तैयार हूं। मैं भारत आऊंगा। मैंने इस भारतीय मुक्केबाज के बारे में काफी कुछ सुना है और उसे लेकर काफी हाईप है। मैं उसे उसके ही घर में हराने के लिए इंतजार नहीं कर सकता।’ चेका ने कहा, ‘मुझे पता है कि वह मैनचेस्टर में ट्रेनिंग करता है लेकिन इस भारतीय को उसी के देश में हराना और खिताब जीतना शानदार होगा। अगर आप मेरा रिकॉर्ड देखो को मैंने 17 नॉकआउट किए हैं, मैंने उससे अधिक राउंड खेले हैं, मुझे यकीन है कि वह उसे पहले ही राउंड में ढेर कर दूंगा। मुझे कोई शक नहीं है कि मैं विजेंदर को नॉकआउट कर दूंगा।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 5:54 pm

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग