May 24, 2017

ताज़ा खबर

 

थाईलैंड ओपन में समीर वर्मा करेंगे भारतीय चुनौती की आगुवाई

सौरभ वर्मा की निगाहें लगातार तीसरे फाइनल पर लगी होंगी जो व्लादीवोस्तक में 55,000 डॉलर ईनामी राशि के रूस ग्रां प्री में खेलेंगे।

Author बैंकाक | October 3, 2016 19:50 pm
भारतीय बैडमिंटन के राष्ट्रीय चैंपियन समीर वर्मा। (एक्सप्रेस फाइल फोटो)

राष्ट्रीय चैम्पियन समीर वर्मा यहां शुरू होने वाले 120,000 डॉलर ईनामी राशि के थाईलैंड ओपन ग्रां प्री गोल्ड बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारतीय चुनौती की अगुवाई करेंगे जो मंगलवार (4 अक्टूबर) से क्वॉलीफायर के साथ शुरू होगी। सातवें वरीय समीर का सामना मुख्य ड्रा में थाईलैंड के कंटाफोन वांगचारोन से होगा। युवा शटलर हर्षील दानी, सी रोहित यादव और श्रेयांश जैसवाल भी पुरुष एकल स्पर्धा में भाग लेंगे। महिला युगल में प्राजक्ता सावंत मलेशिया की झी किंग ली के साथ जोड़ी बनाएंगी और उनका सामना पावसम्प्रान और क्वांनचानोक सुदजाईप्रापरात की स्थानीय जोड़ी से होगा।

मिश्रित युगल में प्राजक्ता मलेशिया के योगेंद्रन कृष्णन के साथ जोड़ी बनाएंगी और शुरुआती मैच में उनका सामना इंडोनेशिया के मारकिस किडो और अप्रियानी राहायु की जोड़ी से होगा। समीर जहां बैंकाक में व्यस्त होंगे, उनके बड़े भाई सौरभ वर्मा की निगाहें लगातार तीसरे फाइनल पर लगी होंगी जो व्लादीवोस्तक में 55,000 डॉलर ईनामी राशि के रूस ग्रां प्री में खेलेंगे। छठे वरीय सौरभ बेल्जियम और पोलैंड में दूसरे स्थान पर रहे थे, उनका सामना रूस के एलेक्सेज जोलोतुएव से होगा जबकि युवा सिरिल वर्मा की भिड़ंत स्थानीय शटलर आंद्रे जदानोव से होगी।

महिला एकल में तीसरी वरीय तनवी लाड, अरुंधति पंतावने और रूथविका शिवानी गाडे भाग लेंगी। तनवी और रूथविका को पहले दौर में बाई मिली है, अरुधंति का सामना रूस के अनास्तासिया शारापोवा से होगा। महिला युग में जाकामपुडी मेघना और पूर्विशा एस राम की भिड़ंत विक्टोरिया स्लोबोदयानयुक और एलिजावेटा तारासोवा से होगी जबकि पिछले महीने ब्राजील ओपन ग्रां प्री में जीत दर्ज करने वाले दूसरे वरीय प्रणव जेरी चोपड़ा और रेड्डी एन सिक्की मिश्रित युगल में भाग लेंगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 3, 2016 7:50 pm

  1. No Comments.

सबरंग