ताज़ा खबर
 

इंडियन सुपर लीग: इटली के जंब्रोटा बने दिल्ली डायनामोस के मुख्य कोच

इटली की 2006 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे जियानलुका जंब्रोटा एक अन्य विश्व कप विजेता ब्राजील के राबर्टो कार्लोस की जगह लेंगे।
Author नई दिल्ली | July 6, 2016 05:04 am
इटली के जियानलुका जंब्रोटा। (फाइल फोटो)

इटली के जियानलुका जंब्रोटा ने मंगलवार (5 जुलाई) को दिल्ली डायनामोस के नए मुख्य कोच का पद भार संभाल लिया और 2006 विश्व कप विजेता ने इसके तुरंत बाद घोषणा की कि उनकी टीम इस बार इंडियन सुपर लीग में खिताब जीतने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी। इटली की 2006 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे जंब्रोटा एक अन्य विश्व कप विजेता ब्राजील के राबर्टो कार्लोस की जगह लेंगे। जंब्रोटा तीन साल में दिल्ली डायनामोस के तीसरे कोच हैं। उन्होंने दो साल के अनुबंध पर हस्ताक्षर किए हैं। आईएसएल के पहले सत्र में नीदरलैंड के हार्म वान वेल्डोवेन दिल्ली डायनामोस के कोच थे जबकि दूसरे सत्र में कार्लोस ने यह जिम्मेदारी संभाली।

दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फुलबैक में से एक जंब्रोटा ने मंगलवार (5 जुलाई) को यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘मैं दिल्ली डायनामोस टीम का हिस्सा बनकर खुश हूं। मेरे लिए इस टीम को कोचिंग देने का यह बहुत अच्छा मौका है। हमारा उद्देश्य, जैसे कि प्रशांत अग्रवाल (दिल्ली डायनामोस के अध्यक्ष) चाहते हैं, आईएसएल खिताब जीतकर इतिहास रचना है। मुझे भारतीय फुटबॉल को अगले स्तर पर ले जाने में थोड़ा योगदान देने में खुशी होगी।’

उन्होंने कहा, ‘मेरा अनुबंध दो साल के लिए है और मैं क्लब के साथ अच्छा समय बिताने पर ध्यान दे रहा हूं। अभी काफी काम करना है और हम पेशेवर तरीके से ऐसा करेंगे। घरेलू स्टेडियम खूबसूरत है और मैं आपसे वादा करता हूं कि दिल्ली डायनामोस आकर्षक और आक्रामक फुटबाल खेलेगी। उसका रक्षण मजबूत होगा और वह संगठित होकर खेलेगी।’ जंब्रोटा ने स्विस क्लब चियासो के दो साल तक कोच रहे थे। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय टीम के पूर्व साथी और दिल्ली डायनामोस के पहले सत्र के मार्की खिलाड़ी अलेसांद्रो देलपियारो ने उन्हें भारत आने के लिए काफी प्रोत्साहित किया।

उन्होंने कहा, ‘मैंने अपने मित्र और पूर्व साथी अलेसांद्रो से आईएसएल के बारे में काफी सुना था। उन्होंने मुझे दिल्ली डायनामोस के बारे में काफी जानकारी दी। उन्होंने मुझे जो कुछ बताया वह मुझे अच्छा लगा और जब प्रशांत ने मेरे सामने पेशकश की तो फिर मैंने इस पर दोबारा विचार नहीं किया।’ जंब्रोटा ने कहा, ‘कार्लोस जीवंत किवदंती हैं और उन्होंने पिछले साल अच्छा काम करके डायनामोस को सेमीफाइनल में पहुंचाया। मैं जानता हूं कि मुझसे काफी उम्मीदें लगायी जाएंगी लेकिन मुझे विश्वास है कि मैं टीम को खिताब तक पहुंचाने में सफल रहूंगा। हम लोगों को स्टेडियम तक लाने के लिये अपनी तरफ से सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेंगे।’

दिल्ली डायनामोस 2014 में पहले सत्र में पांचवें स्थान पर रही थी जबकि पिछले सत्र में सेमीफाइनल में पहुंची थी। जंब्रोटा से पूछा गया कि वह भारतीय फुटबॉल और आईएसएल के बारे में कितना जानते हैं, उन्होंने कहा, ‘मैं आईएसएल और भारतीय फुटबॉल के बारे में थोड़ा जानता हूं विशेषकर मित्रों और अलेसांद्रो से मिली जानकारी से। मैं चाहता हूं कि दिल्ली डायनामोस अच्छा प्रदर्शन करे। मुझे चुनौतियां पसंद हैं और मुझे नए स्थानों और संस्कृति को समझना पसंद है।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग
Indian Super League 2017 Points Table

Indian Super League 2017 Schedule