December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

भारत-पाक हॉकी इतिहास का अधिकांश हिस्सा मिटा, 120 मैच एफआईएच रिकॉर्ड से नदारद

भारत और पाकिस्तान के बीच पहला मैच 1956 में मेलबर्न ओलंपिक फाइनल में खेला गया था।

Author कुआंटन | October 24, 2016 16:07 pm
भारत ने एशिया चैंपियंस ट्रॉफी 2016 में राउंड रोबिन लीग मैच में पाकिस्‍तान को 3-2 से हराया था। (फाइल फोटो)

चिर प्रतिद्वंद्वी भारत और पाकिस्तान के हॉकी मैचों का इंतजार लाखों हॉकी प्रेमियों को रहता है लेकिन अंतरराष्ट्रीय हॉकी महासंघ ने इन एशियाई दिग्गजों के बीच खेले गए अधिकांश मैचों को अपने रिकॉर्ड में जगह नहीं दी है। एफआईएच को सबसे ज्यादा कमाई भारत और पाकिस्तान के बीच मैचों से होती है। भारत और पाकिस्तान के बीच पहला मैच 1956 में मेलबर्न ओलंपिक फाइनल में खेला गया था। पिछले छह दशक में करीब 166 बार दोनों टीमें भिड़ चुकी है और एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी में रविवार (23 अक्टूबर) को भारत की जीत 54वीं थी। पाकिस्तान 82 मैच जीत चुका है जबकि 30 मैच ड्रा रहे। एफआईएच ने फैसला किया है कि इस हॉकी इतिहास का अधिकांश हिस्सा मिटा दिया जाए।

एफआईएच ने जो ‘टीएमएस डाटा’ तैयार किया है, उसमें भारत और पाकिस्तान के बीच सिर्फ 46 मैचों का जिक्र है। यहां एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी के आयोजक उन्हीं आंकड़ों के आधार पर रिकॉर्ड तैयार कर रहे हैं। भारतीय खिलाड़ियों द्वारा पाकिस्तान के खिलाफ किए गए 321 गोलों में से सिर्फ 98 को ही एफआईएच डाटा में जगह मिली है। इसके मायने है कि बाकी 223 गोल में उनकी मेहनत बेकार गई। इसी तरह पाकिस्तानी खिलाड़ियों द्वारा भारत के खिलाफ किए गए 386 गोलों में से सिर्फ 110 को मान्यता मिली है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 24, 2016 4:07 pm

सबरंग