December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी: भारत की नजरें चीन, मलेशिया को हराकर लीग चरण में शीर्ष रहने पर

पाकिस्तान के दो हार के बाद तीन ही अंक है लेकिन अब उसे जापान और चीन से खेलना है।

Author कुआंटन | October 24, 2016 14:54 pm
भारत ने एशिया चैंपियंस ट्रॉफी 2016 में राउंड रोबिन लीग मैच में पाकिस्‍तान को 3-2 से हराया था। (फाइल फोटो)

पाकिस्तान को हराकर आत्मविश्वास से ओतप्रोत भारतीय टीम अब चीन और मलेशिया पर जीत दर्ज करके चौथे एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी हॉकी टूर्नामेंट में राउंड राबिन चरण में शीर्ष पर रहने की कोशिश करेगी। भारत को मंगलवार (25 अक्टूबर) को चीन से और फिर मलेशिया से खेलना है। भारत ने जापान को 10-2 से हराने के बाद रविवार को पाकिस्तान पर 3-2 से जीत दर्ज की। राउंड राबिन लीग में शीर्ष पर रहने के बाद भारत को सेमीफाइनल में कमोबेश आसान प्रतिद्वंद्वी मिलेगा। दक्षिण कोरिया के खिलाफ ड्रा से भारत फिलहाल मलेशिया से दो अंक पीछे है। मलेशिया के तीन मैचों में नौ अंक है। पाकिस्तान के दो हार के बाद तीन ही अंक है लेकिन अब उसे जापान और चीन से खेलना है।

दक्षिण कोरिया से ड्रा खेलने के बाद पाकिस्तान को हराकर भारतीयों के हौसले बुलंद है। कोच रोलेंट ओल्टमेंस ने हालांकि कहा कि खिलाड़ियों को बेहतर प्रदर्शन करना होगा। उन्होंने कहा,‘हम कल (रविवार, 23 अक्टूबर) पाकिस्तान से कहीं मजबूत थे लेकिन हमें अपना खेल बेहतर करना होगा। हम इससे बेहतर प्रदर्शन कर सकते हैं।’ भारत के कुछ प्रमुख खिलाड़ी चोट के कारण बाहर है हालांकि कोच ओल्टमेंस ने कहा कि ओलंपिक के बाद प्रतिस्पर्धी हॉकी में लौटने से युवाओं को अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला है। वह डिफेंस में हुई गलतियों से नाखुश दिखे जिससे पाकिस्तानी स्ट्राइकरों को गोल करने के मौके मिल गए।

ओल्टमेंस ने कहा,‘हमारे डिफेंस ने दूसरे हाफ में कुछ गलतियां की। पाकिस्तान ने उनका फायदा उठाकर दो गोल कर दिए।’ पाकिस्तान ने दूसरे हाफ में दो गोल नौ मिनट के भीतर किए और 2-1 की बढ़त ले ली। इसके बाद हालांकि भारत ने दो और गोल करके फिर बढ़त बनाई। ओल्टमेंस ने कहा,‘हमें और पेनल्टी कॉर्नर बनाने होंगे। चीन से कड़ी चुनौती मिल सकती है लिहाजा कोई गलती करने से बचना होगा।’ एशियाई खेल 2006 में चीन ने भारत पर अप्रत्याशित जीत दर्ज करके रजत पदक जीता था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 24, 2016 2:40 pm

सबरंग