December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

चार देशीय हॉकी टूर्नामेंट: न्यूजीलैंड से हारकर भारतीय टीम खिताबी दौड़ से बाहर

न्यूजीलैंड से 2-3 से हारकर भारत खिताब की दौड़ से बाहर हो गयी।

Author मेलबर् | November 26, 2016 20:02 pm
भारतीय हॉकी टीम (फाइल फोटो हॉकी इंडिया)

भारतीय पुरुष हॉकी टीम शनिवार (26 नवंबर) को यहां चार देशों के आमंत्रण टूर्नामेंट के चुनौतीपूर्ण मुकाबले में न्यूजीलैंड से 2-3 से हारकर खिताब की दौड़ से बाहर हो गयी। इस हार का मतलब है कि भारत अब रविवार (27 नवंबर) तीसरे-चौथे स्थान के क्वालीफिकेशन मैच में मलेशिया से भिड़ेगा। भारत के लिये दोनों गोल ड्रैगफ्लिकर रूपिंदर पाल सिंह (18वें मिनट और 57वें मिनट) ने किये। भारतीयों ने आक्रामक शुरुआत की। पहले 15 मिनट में ही भारतीय खिलाड़ियों ने प्रतिद्वंद्वी सर्कल में कई बार सेंध लगायी लेकिन गोल के लिये कोई बेहतर शॉट नहीं लगा सके। न्यूजीलैंड के निक रोस गोल करने के करीब पहुंच गये थे लेकिन भारतीय गोल के सामने सतर्क आकाश चिकटे ने बाक्स के ऊपर लगा रिवर्स शॉट का अच्छा बचाव किया।

भारत को बढ़िया मौका पहले क्वार्टर में पेनल्टी कॉर्नर पर मिला लेकिन रूपिंदर पाल सिंह की फ्लिक को न्यूजीलैंड के कप्तान शिया मैकअलीसे ने रोक दिया। भारतीयों ने दूसरे क्वार्टर में तेजी से दबाव डालने की कोशिश की। इस कदम का फायदा उन्हें 18वें मिनट में मिला जब आकाशदीप को एक पेनल्टी मिली जिसे रूपिंदर ने गोल में तब्दील किया। दोनों टीमों के लगातार प्रयासों के बावजूद स्कोर में कोई बदलाव नहीं हुआ और भारतीय टीम ने पहले हाफ में 1-0 से बढ़त कायम रखी। दूसरे हाफ में न्यूजीलैंड ने गोल में पहला शॉट लगाया लेकिन एक बार फिर चिकटे ने मैट रीज गिब्स का दूर से लगाया शॉट रोक दिया।

इसी दौरान निकिन थिमैया का शाट बाक्स के ऊपर से चला गया। अंतिम क्वार्टर में न्यूजीलैंड ने लगातार दो गोल कर दिये। निक रॉस ने 47वें मिनट में गोल दागा जिसके बाद जैकब स्मिथ ने अगले मिनट में टीम को 2-1 से आगे कर दिया। भारत ने फिर आक्रामक होने की कोशिश की जिसका न्यूजीलैंड ने फायदा उठाया और हुगो इंगलिस के 57वें मिनट में किये गये गोल से 3-1 से बढ़त बना ली। रूपिंदर ने पेनल्टी कॉर्नर को तब्दील कर स्कोर 2-3 कर दिया। अंतिम मिनट में भारत ने बराबरी हासिल करने के कई मौके बनाये लेकिन न्यूजीलैंड ने उन्हें ऐसा नहीं करने दिया और जीत दर्ज की।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 26, 2016 8:02 pm

सबरंग